15th December 2018 28

मोस्ट वॉन्टेड जहूर समेत तीन आतंकी ढेर


सेना का एक जवान शहीद, दो जवान घायल

मुठभेड़ के बाद स्थानीय लोगों ने सुरक्षाबलों पर किया पथराव

उपद्रव कर रहे 6 लोगों की भी मौत, रेल और इंटरनेट सेवाएं बंद

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान तीन आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है। मारे गए आतंकियों में हिज्बुल मुजाहिद्दीन का मोस्ट वॉन्टेड जहूर ठोकर भी शामिल है। मुठभेड़ के दौरान एक जवान शहीद हो गया जबकि दो जवान घायल हुए हैं। इसके अलावा मुठभेड़ के दौरान एक स्थानीय युवक को भी गोली लगी है, जिसके बाद हंगामा हो गया।  आतंकियों के मारे जाने के बाद स्थानीय लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। इस उपद्रव में 6 लोग मारे गए हैं व कई अन्य घायल भी हुए हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए इंटरनेट सेवाओं पर तत्काल रोक लगा दी गई है।

बता दें कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शनिवार को सुरक्षाबलों को 2 से 3 आतकियों के छिपे होने की खबर मिली थी। जिसके बाद सुरक्षाबलों ने क्षेत्र में सर्च अभियान चलाकर आतंकवादियों को चारों ओर से घेर लिया। खुद को घिरता देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। जबावी कार्रवाई करते हुए सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया। मारे गए आतंकियों में आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन का मोस्ट वॉन्टेड जहूर ठोकर भी शामिल है। मुठभेड़ के दौरान भारतीय सेना का एक जवान भी शहीद हो गया जबकि दो जवान घायल हो गए हैं। घायल जवानों को सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सुरक्षा बलों द्वारा आतंकी बने स्थानीय युवकों को मारे जाने के बाद मुठभेड़ स्थल पर माहौल तनावपूर्ण हो गया है। स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन के साथ ही सुरक्षा बलों पर पथराव शुरू कर दिया।  इस उपद्रव में 6 लोग मारे गए हैं व कई अन्य घायल भी हुए हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए बारामुला बनिहाल रेल सेवा को रोक दिया गया है और इलाके में इंटरनेट सेवाएं रोक दी गई हैं। 

जहूर ठोकर 173 टेरीटोरियल आर्मी का सदस्य था और 2016 में सर्विस रायफल के साथ भागकर आतंकी बना था। फिलहाल, तीनों आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। गौरतलब है कि घाटी में सुरक्षाबलों के जवान लगातार आतंक विरोधी अभियान छेड़े हुए हैं। पिछले हफ्ते सोपोर में सुरक्षाबलों ने दो आतंकी मार गिराए गए थे। इस साल कश्मीर में करीब 235 आतंकी मारे गए हैं, जिसमें ज्यादातर आतंकी स्थानीय हैं।


Visitors: 335186
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.