20th October 2018 49

रावण का वध, दीपों से जगमगाई अयोध्या


दशहरा मेले के दौरान भीड़ उमडऩे से बिगड़ी यातायात व्यवस्था

रावण दहन के दौरान भूरारानी रोड पर लगा जाम, बमुश्किल खुला

ठुकराल और बेहड़ समेत तमाम अधिकारी पहुंचे दशहरे मेले में

रुद्रपुर। रावण वध देखन के लिए शहर की जनता रात सड़कों पर उमड़ पड़ी। जगह जगह लोगों ने शानदार आतिशबाजी का नजारा देखा और अंत में राम ने रावण की नाभि में तीर मार कर उसका अंत कर दिया। हालांकि दशहरा मेले के दौरान उमड़ी भीड़ से जगह जगह जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। जिसे सामान्य करने के लिए पुलिस को पसीना बहाना पड़ा। भूरारानी में रावण दहन देखने के लिए इस कदर भीड़ उमड़ी की पूरा का पूरा रोड जाम हो गया। कमोवेश शहर में तमाम स्थानों पर ऐसी ही स्थिति देखने को मिली। हालांकि इस भीड़ ने मेलों की रौनक देर रात तक बना कर रखी। इंद्रा कालोनी में आयोजित हुए दशहरा मेले में पहुंचे विधायक राज कुमार ठुकराल ने लोगों को पर्व की बधाई दी। 

 गांधी पार्क में आयोजित शहर की मुख्य रामलीला में रावण वध की लीला के मंचन हुआ। जिसके पश्चात विभीषण द्वारा रावण, मेघनाद व कुंभकर्ण के विशालकाय पुतलों का दहन कर बुराई पर अच्छाई की जीत के महापर्व को बहुत ही धूमधाम से मनाया गया।  पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कृष्ण कुमार वीके, एएसपी देवेन्द्र पिंचा, सीओ स्वतंत्र कुमार सहित शहर के तमाम लोग इस दृष्य के गवाह बनें। श्रीरामलीला कमेटी के संरक्षक तिलकराज बेहड़ ने अपने संबोधन में कहा कि दशहरा पर्व भारत की प्राचीन गौरवशाली परंपराओं का प्रतीक है। प्राचीन समय से ही एक बात अटल सत्य है कि झूठ, पाखण्ड व अहंकार जैसी दानवी शक्तियां एक बार को हावी तो हो सकती हैं, लेकिन आखिकार उनका अंत तय है। रावण नेे साधु बनकर सीता जी का हरण तो कर लिया, लेकिन आखिरकार उसको इसका अंजाम भुगतना पड़ा। अंहकारी साधु रावणों के खिलाफ  हमें भी सत्य के मार्ग पर चलकर ही विजय प्राप्त हो सकती है। रामलीला कमेटी के अध्यक्ष पवन अग्रवाल ने सभी सम्मानित गणमान्य नागरिकों, अधिकारीगणों एवं क्षेत्रवासियों का धन्यवाद प्रेषित किया। संचालन कोषाध्यक्ष नरेश शर्मा एवं महामंत्री विजय जग्गा ने किया। गांधी पार्क में दशहरा पर्व मनाने के बाद देर रात्रि रोडवेज बस अड्डे के सामने मुख्य रामलीला मैदान में श्रीराम चन्द्र की अयोध्या वापसी एवं राज तिलक के साथ ही इस वर्ष की लीला का समापन हो गया। 

श्रीरामलीला का शुभारंभ समाजसेवी पूरन चंद्र गंभीर, उनके अनुज व दशकों तक इसी मंच पर रावण व मेघनाद का ऐतिहासिक अभिनय कर चुके समाजसेवी राकेश गंभीर, चार्टेट अकाउंटेंट अमित गंभीर, दीपक गंभीर, आशीष गंभीर, पूजा गंभीर, चार्टेड अकाउंटेंट सान्या गंभीर सहित शहर के प्रतिष्ठित गंभीर परिवार ने प्रभु रामचन्द्र के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके बाद पहले दृश्य में प्रभु श्रीराम चन्द्र के आदेश पर लक्ष्मण विभीषण को लंका का राजपाट सौंपते हैं। इसके बाद हनुमान अयोध्या जाकर भरत व शत्रुघन को अयोध्या के दरवाजे पर प्रभु रामचन्द्र के आगमन की सूचना देते हैं। प्रभु राम  के अयोध्या पहुंचने पर उनका राजतिलक होता है। उनके राजतिलक की खुशी में पूरी अयोध्या रूपी और रामलीला ग्राउण्ड़ में खूबसूरत आतिशबाजी की गई। 

इस दौरान रामलीला कमेटी के अध्यक्ष पवन अग्रवाल, महामंत्री विजय जग्गा, कोषाध्यक्ष नरेश शर्मा, श्री सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष नन्द लाल भुड्डी, व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जुनेजा, बीना बेहड़, मीना शर्मा, सुभाष खंड़ेलवाल, विजय अरोरा, ओमप्रकाश अरोरा, संजय जुनेजा, महेश बब्बर, महावीर आजाद, हरीश धीर, अमित अरोरा बॉबी, राकेश सुखीजा, सतीश सुखीजा, राजेश छाबड़ा, रवि पुंशी, मोहन लाल भुड्डी, प्रेम खुराना, अनिल शर्मा, गौरव तनेजा, हरीष सुखीजा, मनोज मुंजाल, विशाल भुड्डी, मनोज गाबा, हरीश अरोरा, पुनीत छाबड़ा, सचिन मुंजाल, रजनीश बत्रा, जसविन्दर खरबन्दा, गौरव बेहड़, राजकुमार कक्कड़, सुशील गाबा, मनोज अरोरा, सचिन आनन्द, अनिल तनेजा, नरेश छाबड़ा, रमन अरोरा, मनोज मदान, मनी बठला, राजेन्द्र कक्कड़, राकेश गंभीर, अमित गंभीर,  पवन गाबा पल्ली, संजीव आनन्द, गुरदीप गाबा, रवि चोपड़ा, वैभव भुड्ड़ी, गौरव जग्गा, गोला इदरीश, गोगी नरूला, सुभाष तनेजा, मोहित मुंजाल, विक्रम कुमार, गुरूशरण बब्बर शरणी, राम कृष्ण कन्नौजिया, कुक्कू शर्मा, राजेन्द्र खानिजो, शभम् खानिजो, रोनित मुंजाल, गर्वित मुुंजाल, हैप्पी, अमन जुनेजा, राकेश कुमार, सन्नी आहूजा, गगन दुनेजा, सुमित आनन्द, रोहित खुराना, अभय भुड्डी, वीशू गगनेजा, नितिश धीर, राघव ग्रोवर, मनोज कुमार, मनजीत, मोहन गाबा, मोहन अरोरा, कुन्दन, सोनू, विशाल अनेजा, राजकुमार, आयुष्मान गाबा, सन्नी घई, हर्षित अरोरा, अनमोल छाबड़ा, पारस छाबड़ा, शौर्य छाबड़ा, विवेक आनन्द, तन्मय आनन्द, पंकज, अजीम, नूर मोहम्मद, अनिल शर्मा, मनीश षर्मा, अमन गुम्बेर, वीशू गगनेजा, कुंदन, सन्नी मुंजाल, मोहन अरोरा, कमल कालड़ा, अमित कुमार, विकास चोपड़ा, तरूण चोपड़ा, संजीव कामरा, सिमरन विर्क, सुरेन्द्र छाबड़ा आदि उपस्थित थे।


Visitors: 304369
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.