25th March 2019 21

सज गया रण का मैदान, चुनावी जंग होगी दमदार


मोदी मंत्र के सहारे भाजपा के अजय भट्ट

हरीश के सामने है सियासी वर्चस्व कायम रखने की चुनौती

रुद्रपुर।  ऊधमसिंह नगर नैनीताल संसदीय सीट पर भाजपा के अजय भट्ट व कांग्रेस के हरीश रावत बीच अब रण की तैयारी पूरी हो चुकी है। चुनावी रण क्षेत्र में भाजपा के अजय भट्ट मोदी मंत्र के सहारे अपने चुनावी अस्त्र शस्त्र लेकर उतरे हैं जबकि कांग्रेस के हरीश रावत के सामने अपने सियासी वर्चस्व को बचाना बड़ी चुनौती है और वह अपने सियासी तजुर्बे के आधार पर भट्ट के हर वार का काट करने को तैयार बैठे हैं।

सोमवार को इस सीट से भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने अपना नामांकनपत्र दाखिल करने के साथ ही चुनावी जंग का ऐलान कर दिया, वहीं बड़े कद के तजुर्बेदार कांग्रेस प्रत्याशी हरीश रावत अपने समर्थकों रूपी सेना के साथ मुकाबले में खड़े हो गए हैं। यहां बता दें कि अजय भट्ट भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष का दायित्व निभा रहे हैं जबकि हरीश रावत कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी पहले ही निभा चुके हैं तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री जैसे पद पर आसीन रह चुके हैं। दो दिग्गजों के बीच होने वाला रोमांचक होने की पूरी उम्मीद है। भाजपा प्रत्याशी भट्ट राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे को आगे रख रहे हैं और कांग्रेस पर आतंकवादियों का मनोबल बढ़ाने व पाकिस्तान को सुख देने वाले बयान देने का आरोप लगा रहे हैं, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी हरीश रावत जनसरोकारों से जुड़े मुद्दों के आधार मैदान में हैं। हालांकि वह भाजपा के हर वार का जवाब देने को तैयार हैं। अभी तो जंग की शुरूवात है और यह चुनावी जंग आने वाले समय में अपने चरम पर पहुंचेगी। श्री भट्ट को भरोसा है कि उनके पीछे पूरी भाजपा लॉबी लगेगी तथा उनकी चुनावी नैया को पार कराएगी, वहीं हरीश रावत के सामने यह चुनौती है कि वह किसी तरह इस जंग को जीत कर अपने सियासी वर्चस्व को कायम रखें। 

कोशिशें अपनी अपनी होंगी, हालांकि विजय का सेहरा किसके सिर बंधेगा यह आम मतदाता तय करेंगे। फिलहाल तो दोनों ही दलों के प्रत्याशी बूथ स्तर पर खुद को मजबूत करने के लिए काम करने में जुटे हैं और उनकी कोशिश होगी कि चुनावी हवा का रुख अपनी ओर मोड़े। इन कोशिशों में कौन कितना कारगर साबित होता है यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा, लेकिन इतना तय है कि मुकाबला काफी रोचक होगा। कौन किस पर कितना भारी पड़ेगा तो अभी तय नहीं है, लेकिन चुनावी जंग होगी मजेदार।

पासी व पांडेय नामांकन से गायब, कोश्यारी मौजूदगी महज औपचारिक

रुद्रपुर। भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट के नामांकन में प्रदेश सरकार के मंत्री अरविंद पांडेय व बलराज पासी की गैरमौजूदगी चर्चा का विषय रही। हालांकि सांसद भगत सिंह कोश्यारी नामांकन में शामिल हुए, लेकिन उनकी मौजूदगी महज औपचारिकता भर रही। सांसद कोश्यारी कलक्ट्रेट तक पहुंचे और नामांकन कक्ष में नहीं गए। उनका कहना था कि अंदर मीडिया नहीं होगी। मीडिया के जरिए संदेश देना था सो दे दिया। सांसद कोश्यारी ने कहा कि जनता ने पहले से वोट देने का मन बना रखा है। लड़ाई राष्ट्रीय व स्थानीय मुद्दों पर होगी। अजय भट्ट भाजपा के बड़े नेता हैं। 

हरीश के नामांकन में इंदिरा व पाल ने बनाए रखी दूरी

रुद्रपुर। कांग्रेस प्रत्याशी हरीश रावत के नामांकन के वक्त नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश व पूर्व सांसद महेंद्र पाल नदारद रहे। जिससे कांग्रेस में सुलग रही गुटबाजी सबके सामने आ गई। यहां बता दें कि डा. इंदिरा हृदयेश नैनीताल लोकसभा सीट से पूर्व सांसद महेंद्र पाल की पैरवी कर रही थीं तथा पैनल में हरीश रावत का नाम तक नहीं था, लेकिन हरीश रावत अपने उच्च स्तरीय राजनीतिक संबंधों के चलते ऊधमसिंह नगर नैनीताल सीट से टिकट ले आए। माना जा रहा है कि यही कारण है कि नेता प्रतिपक्ष इंदिरा व पूर्व सांसद पाल ने नामांकन के वक्त रावत से दूरी बनाए रखी।


Visitors: 340038
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.