25th July 2018 318

इंग्लैंड जाने से पहले हथियार बेचने गए कांग्रेस नेता की गोली लगने से मौत


 गन हाउस में रिवॉल्वर चेक करते समय चली गोली

जालंधर। नकोदर रोड पर सूरी गन हाउस में मंगलवार दोपहर चली गोली से 35 साल के कांग्रेसी नेता बलवंत सिंह शेरगिल की मौत हो गई। गोली शेरगिल के चेहरे पर बाईं आंख के पास लगी थी। गोली गन हाउस के मालिक 51 साल के परविंदर सिंह सूरी के हाथ से उस समय चली, जब वे कांग्रेसी नेता के पॉइंट 22 बोर का रिवॉल्वर चेक कर रहे थे। शेरगिल अपना रिवॉल्वर बेचना चाहते थे क्योंकि उन्हें अगले महीने पत्नी और बेटे के साथ इंग्लैंड जाना था।

क्राइम सीन गन हाउस के अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हुआ है। गोली शेरगिल के गनहाउस में आने के महज 70 सेकंड में चली है। पुलिस ने मॉडल टाउन के रहने वाले परविंदर सूरी के खिलाफ  मर्डर का केस दर्ज किया है। न्यू संतोखपुरा के रहने वाले बलवंत शेरगिल की लाश को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेजा गया है। बुधवार को पोस्टमार्टम होगा। दोपहर 2:50 पर थाना 4 के एसएचओ सुखदेव सिंह को कॉल आई कि नकोदर रोड पर ज्योति चौक के पास सूरी गन हाउस में गोली चली है। पुलिस क्राइम सीन पर आई तो गन हाउस का शीशे वाला गेट लॉक था। अंदर खून बिखरा था और टेबल पर वेपन पड़ा था।

पता चला कि जख्मी को पहले सिविल और फिर लांबड़ा स्थित मान मेडिसिटी अस्पताल ले गए हैं। पुलिस वहां पहुंची तो डा. जेएस मान ने कहा कि डेथ हो चुकी है। तब तक वहां से सूरी गायब हो चुके थे। वेपन लाइसेंस से शेरगिल की पहचान हुई। अस्पताल में पिता ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि बेटा घर से करीब 12:30 बजे निकला था। उसने कहा था कि  वह अपना रिवॉल्वर बेचने जा रहा है। पिता ने आरोप लगाया है कि सूरी ने ही उसके बेटे को गोली मारकर हत्या की है। इससे पहले पांच मई को भी गन हाउस से एक फौजी एयर गन लेकर भागा था, जिसे सूरी ने लोगों की मदद से पकड़ लिया था।



Visitors: 320801
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.