7th December 2018 27

संत गोपालदास दून अस्पताल से गायब, मचा हड़कंप


पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी फुटेज

 देहरादून। गंगा बचाने के लिए आमरण अनशन करने वाले संत गोपाल दास दून अस्पताल से गायब हो गए। उनके गायब होने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरू किए हैं। वह अस्पताल से जाते तो दिखाई दिए, लेकिन उनके दोनों मोबाइल फोन बैड पर रखे मिले।

आमरण अनशन पर बैठे संत गोपाल दास की हालत बिगडऩे पर पहले तीन दिसंबर को ऋषिकेश एम्स में भर्ती कराया था। फिर उन्हें दिल्ली रैफर कर दिया गया था। दिल्ली से उन्हें पांच दिसंबर को डिस्चार्ज किया गया था। जिसके बाद वह दून अस्पताल पहुंचे थे। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि यहां गोपाल दास भर्ती तो हुए थे, लेकिन उन्होंने न तो कोई जांच कराई और न ही कोई दवाई ली। वे यहां 14 नंबर वार्ड के 15 वें बेड पर भर्ती थे। अस्पताल में मौजूद चिकित्साकर्मियों ने रात करीब 8 बजे जानकारी दी कि संत गोपाल दास और उनका तीमारदार कोई भी वहां मौजूद नहीं है। काफी देर तक उनकी तलाश की गई। उनका कुछ पता न लगने पर उनके गायब होने की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी गई।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उनके बेड पर उनके दोनों मोबाइल फोन रखे हुए मिले हैं। फिलहाल, मोबाइल  कब्जे में लेकर कॉल डिटेल्स खंगाली जा रही है। पुलिस यह पता करने की कोशिश कर रही है कि वे गायब होने से पहले किसके संपर्क में थे। बता दें कि दून अस्पताल में भर्ती होने के दौरान 5 दिसंबर को उन्होंने मीडिया से कहा था कि वे दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती थे लेकिन उन्हें जब होश आया तो उन्होंने खुद को देहरादून में पाया। पुलिस ने अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इन फुटेज में गोपालदास और उनके साथ आया व्यक्ति दोनों अलग अलग दिशाओं में जाते दिख रहे हैं। इसके लिए पुलिस ने रेलवे स्टेशन और आईएसबीटी पर भी तलाश शुरू की है। 


Visitors: 312674
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.