12th October 2018 87

निकाय चुनाव के मद्देनजर बढ़ी हल चल


एक बार से प्रत्याशियों के नामों पर मंथन शुरू
रुद्रपुर। निकाय चुनाव की संभावित तिथियां सामने आने के बाद राजनीतिक दलों में हलचल शुरू हो गई है। तमाम नेताओं ने रामनवमी व दशहरे पर शुभकामनाओं के होर्डिंग्स तैयार कराने शुरू कर दिए हैं। हालांकि अभी चुनाव की अधिसूचना जारी होना बाकी है, फिर भी दलों ने अपने संभावित प्रत्याशियों पर एक बार फिर से विचार करना शुरू कर दिया है। संभावित प्रत्याशियों ने अपने आकाओं के दरबार में हाजिरी लगाते नजर आए।
गौरतलब है कि प्रदेश के शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने 15 नवंबर को चुनाव कराने के संकेत दिए हैं। निर्वाचन आयोग की बैठक के बाद अब शीघ्र अधिसूचना जारी होने के आसार हैं। यदि देखा जाए तो सरकार एक महीने में निकाय चुनाव कराने को तैयार है। सरकार की इस तैयारी को न सिर्फ सत्तारूढ़ दल बल्कि अन्य दलों ने भी गंभीरता से लिया है। चुनाव की संभावित तिथि के सामने आते ही चुनाव लडऩे का सपना देख रहे राजनीतिक के कार्यकर्ताओं के चेहरे पर रौनक आ गई है। काफी लोगों ने रामनवमी व दशहरे की शुभकामनाएं देने के लिए होर्डिंग्स बनवाने शुरू कर दिए हैं, ताकि वह अपने वार्डों में लगवा सकें। वहीं पार्टियों के विभिन्न नेताओं के दरबार में संभावित प्रत्याशी टिकट हासिल करने के लिए गणेश परिक्रमा करने लगे हैं। महानगर में अभी मेयर पद के लिए कई नवोदित नेता सपना देख रहे हैं, चूंकि रुद्रपुर नगर निगम सीट आरक्षित श्रेणी में है इसलिए आरक्षित वर्ग के लोग ही भाजपा और कांग्रेस से टिकट पाने की उम्मीद संजोए बैठे हैं। संभावित नामांकन प्रक्रिया 17 अक्टूबर से 20 अक्टूबर के बीच होने की बात सामने आई है, इसलिए राजनीतिक दलों को प्रत्याशियों के नामों की सूची को अंतिम रूप देने के लिए बहुत ज्यादा समय नहीं बचा है। यूं तो कांग्रेस व भाजपा दोनों ही बड़े दलों ने पर्यवेक्षक अंदुरूनी तौर पर दावेदारों की सूची मांग चुके हैं तथा कार्यकर्ताओं से राय मशविरा कर चुके हैं, लेकिन फिर भी अभी कई चीजों को देखते हुए गुणा गणित करना बाकी है।


ताज़ा खबर

Visitors: 293783
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.