12th October 2018 628

पढिय़े...पंतनगर में राज्यपाल ने वैज्ञानिकों की क्यों लगाई फटकार


अलर्ट होकर काम करें, अब यह तमाशा चलने वाला नहीं
सवाल किया कि किसानों को कितना हुआ लाभ
पंतनगर। राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने पंतनगर में वैज्ञानिकों की जमकर क्लास ली। उन्होंने वैज्ञानिकों एवं निदेशकों से नाराजगी जताते हुए कहा कि वह कुछ नहीं कर रहे हैं। यह तमाशा चलने वाला नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि किसानों को कितना फायदा हुआ? अगली बार जब वह आएंगी तो किसानों को उनकी फसल के फोटो सहित बुलाएं। कहा कि सब एलर्ट होकर काम करें। इतनी बड़ी यूनिवर्सिटी को इतने नीचे ले आए हो।
राज्यपाल शुक्रवार को पंतनगर में थी। उन्होंने पंतनगर विश्वविद्यालय के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा यह क्या जवाब हैं कि यह लगाने की प्रोसिस कर रहे हैं। यह इसके लिए प्रयास चल रहा है। उन्होंने एक वैज्ञानिक से पूछा कि वह कब से तैनात हैं तो उन्होंने बताया कि 1993 से नियुक्त हैं। अलबत्ता उन्होंने कहा कि बहुउद्देश्यीय कृषि का प्रोग्राम 2013 14 से चल रहा है। जिस पर राज्यपाल भड़क गई। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि कुछ नहीं करते आप लोग। अफसरों के आगे पीछे कागज पत्रे लेकर चलते रहते हो। कोई काम नहीं हो रहा है यहां। उन्होंने कहा कि इतनी संपदा दी है साल भर में कितना लाभ होता है? राज्यपाल को बताया गया कि यह रिसर्च सेंटर की छोटी यूनिट है। कहा कि जब वह अगली बार जब वह आएंगी तो किसानों को उनकी फसल के फोटो एवं खसरा नंबर सहित बुलाएं। इस दौरान कुलपति राजीव रौतेला, जिलाधिकारी नीरज खैरवाल, मुख्य कृषि अधिकारी अभय सक्सेना, एसएसपी डा. सदानंद दाते एवं पंत विश्व विद्यालय के एसएन तिवारी, डा. जे कुमार, डा. एके यादव, डा. ब्रजेश सिंह, डा. पूनम श्रीवास्तव आदि मौजूद थे।
छात्राओं की अतिरिक्त क्लास के निर्देश
पंतनगर। राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने छात्राओं की काउंसलिंग के लिए अतिरिक्त क्लास लगाने के निर्देश दिए, ताकि छात्राएं छेड़छाड़ जैसी घटनाओं से बच सकें। उन्होंने छात्राओं से खूब लगाकर पढ़ाई करने को कहा तथा अपने सपने पूरे करने को कहा। राज्यपाल इंटर की छात्राओं की क्लास में पहुंची। उन्होंने कहा कि छात्राओं की एक अतिरिक्त क्लास हफ्ते में एक दिन लगाई जाए, जिसमें मनोवैज्ञानिक अथवा पुलिस के अधिकारी को बुलाकर काउंसलिंग कराई जाए,  ताकि छात्राएं छेड़छाड़ की घटना से कैसे बचें इसकी जानकारी उन्हें हो सके। छात्राओं को कानूनी, स्वास्थ्य संबंधी शिक्षा दी जाए।








Visitors: 312388
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.