29th July 2018 55

केंद्र सरकार की अधिसूचना पर सीबीआई ने दर्ज किया मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामला केस


आरोपियों को सीबीआई पूछताछ के लिए भेजेगी नोटिस

पटना/दिल्ली। मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण मामले में सीबीआई ने केस दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है। विपक्ष के कड़े तेवर देख बिहार सरकार ने केंद्र सरकार से सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। केंद्र सरकार की अधिसूचना पर सीबीआई ने बालिका गृह के अधिकारियों और कर्मचारियों पर केस दर्ज कर लिया है।

सीबीआई स्थानीय पुलिस द्वारा इक_ा किए गए सबूतों और सैंपल को खंगालेगी और आगे की कार्रवाई करेगी। जिस लोगों पर आरोप लगे हैं उन्हें नोटिस भेजकर पूछताछ की जाएगी। पुलिस द्वारा फॉरेंसिक साक्ष्यों को भी सीबीआई खंगालेगी। सीबीआई के अधिकारी घटनास्थल से फॉरेंसिक सैंपल इक_ा करेंगे और सीबीआई के अपने फॉरेंसिक लैब में साक्ष्यों की जांच की जाएगी।

यह मामला मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस की कोशिश टीम की सोशल ऑडिट रिपोर्ट में दो महीने पहले सामने आया था। इसके बाद 31 मई को यहां से 44 लड़कियों को छुड़ाया गया। उन्हें पटना, मोकामा और मधुबनी के बालिका गृह में भेजा गया। जांच में 34 लड़कियों के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। 29 लड़कियों के साथ दुष्कर्म की पुष्टि पहले ही हो चुकी थी। शुक्रवार को आई 8 लड़कियों की रिपोर्ट में 5 के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी।

जांच में पता चला कि बालिका गृह में किशोरियों को मिर्गी के मरीजों को लगने वाली सूई देकर बेहोश कर दुष्कर्म किया जाता था। किशोरियों के इलाज के नाम पर बालिका गृह के ऊपर एक कमरा बना था। इसी कमरे में घिनौनी हरकत की जाती थी। शनिवार को पुलिस छापेमारी में इस कमरे से 63 किस्म की दवाएं जब्त की गईं। आईजी के नेतृत्व में पुलिस ने बालिका गृह की जांच की। एफआईआर दर्ज होने के 58वें दिन पहुंचे आईजी और डीआईजी ने कमरे को देखने के बाद इसकी एफएसएल और डॉक्टरों से जांच कराने का निर्देश दिया। सदर अस्पताल से डाक्टर बुलाए गए थे। दंडाधिकारी की मौजूदगी में कमरे में रखे एक एक अलमीरा और बक्से को खोलकर जांच की गई। कमरे से 63 किस्म की दवाएं मिली। इसमें दो तरह की सूई मिर्गी के रोगियों के लिए थी। डाक्टरों ने मिर्गी की सूई सामान्य व्यक्ति को दिए जाने पर उसके अचेत हो जाने की संभावना जताई। इसी कमरे से एक कंप्यूटर भी जब्त किया गया। इसमें किस तरह के डाटा हैं,  इसकी जांच की जाएगी। फर्श से लेकर छत तक की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई गई।


Visitors: 340038
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.