24th July 2018 88

घर देरी से आने पर टोका तो कर दी पिता की हत्या


दो दिन तक बक्से में छिपाए रखी लाश

बदबू आने पर ट्रंक को नहर में फेंका

 पंजाब/बठिंडा। रात को घर देरी से आने पर टोकने से गुस्साए 19 वर्षीय युवक ने अपने पिता की तेजधार हथियार से हत्या कर दी। यही नहीं उसने शव को घर में ही दो दिन तक बक्से के अंदर छिपाए रखा। जब बदबू आने लगी तो आरोपी बेटे ने लाश को नहर में फेंक दिया। शक न हो इसलिए वारदात के एक माह बाद आरोपी ने पिता की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करा दी।

फाजिल्का के गांव सलामेवाला की मंजीत कौर ने बताया कि उसके भाई सुखदेव सिंह (45) का पत्नी के साथ 16 साल पहले तलाक हो गया था। उसका भतीजा कर्णदीप सिंह उर्फ  बंटी उसके भाई सुखदेव सिंह के साथ रहता था। सुखदेव डेढ़ महीने से घर से लापता था। जब वह भतीजे बंटी से पूछती तो वह हर बार कहता कि उन्हें राजस्थान में काम मिल गया है वहीं पर काम कर रहे हैं। सोमवार को बंटी ने बताया कि पिता राजस्थान से आए नहीं। इसके बाद वह घर में सफाई करने लग गई तो उसे बदबू आ रही थी। जब उसने कमरे में पड़े बक्से को खोलकर देखा तो उसमें पड़े कपड़ों में खून लगा था। उसने जब बंटी से इसके बारे में पूछा तो वह रोने लगा और कहने लगा कि उससे गलती हो गई। पिता रात को हर रोज देरी से आने पर टोकते थे। इसी कारण उसने 28 मई 2018 की रात पिता की हत्या कर दी।

थाना संगत पुलिस ने बताया कि पूछताछ में बंटी ने कबूल किया कि 28 मई की रात दाल में गोलियां मिलाकर खिला दीं। बेहोशी में दोस्त गुरनाम वासी प्रताप नगर के साथ गर्दन काटकर हत्या कर दी।


ताज़ा खबर

Visitors: 293836
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.