17th March 2019 62

जो सड़क पर लड़े हैं, उनका संसद में पहुंचना भी जरूरी: बहुगुणा


वामपंथी पार्टियां ने लोकसभा चुनाव के लिए डा. कैलाश पाण्डेय को उतारा मैदान में

रुद्रपुर। महानगर के आहूजा धर्मशाला में तीन वामपंथी पार्टियों के संयुक्त उम्मीदवार माले नेता डा. कैलाश पाण्डेय के चुनाव प्रचार का बिगुल फूंकने के लिए सम्मेलन का आयोजन किया गया। गौरतलब है कि भाकपा (माले), भाकपा और माकपा तीनों वामपंथी पार्टियां लोकसभा चुनाव एकताबद्ध होकर लड़ रही हैं। नैनीताल उधमसिंह नगर संसदीय सीट से माले नेता कामरेड डा. कैलाश पाण्डेय वाम पार्टियों के साझा उम्मीदवार हैं।

चुनावी सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाकपा (माले) के राज्य सचिव कामरेड राजा बहुगुणा ने कहा किए देश में भाजपा के लूट, झूठ व उन्माद के विरूद्ध लाल झंडे ने पूरे देश में जमीनी स्तर पर संघर्ष किया है, इसलिए जो सड़क पर लड़े है, उनका संसद में पहुंचना भी जरूरी है, ताकि देश की राजनीति के हाशिए पर बैठे मजदूर, किसान, बेरोजगारों की आवाज भी संसद में गूंजे। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में डा. कैलाश पाण्डेय को संयुक्त वामपंथ का उम्मीदवार बनाया गया है। कामरेड डा. कैलाश पांडेय एक बेहतरीन अकादमिक योग्यता रखने वाले व गढ़वाल विवि के गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं। उन्होंने उत्तराखंड के आर्थिक इतिहास पर पीएचडी भी की है। छात्र जीवन से ही उत्तराखंड राज्य आंदोलन, आइसा के नेतृत्व में चले विभिन्न छात्र आन्दोलनों, प्राइवेट बीएड कॉलेजों की मान्यता के खिलाफ  चले आंदोलन आदि में सक्रिय रहे। कामरेड बहगुणा ने कहा किए 2014 में नरेन्द्र मोदी ने देश की जनता को जो सब्जबाग दिखाए थे वह बुरी तरह से ध्वस्त हो गए हैं और हर मोर्चे पर विफल सरकार देश के लिए एक आपदा साबित हुई है। उन्होंने कहा कि जिस दिन से पुलवामा में आतंकी हमला हुआ है, पीएम का ध्यान केवल वोट पर है और अंधराष्ट्रवाद  की आड़ में देश के सारे बुनियादी सवालों को पीछे धकेला जा रहा है। यहां तक कि शहीद सीआरपीएफ  के जवानों को शहीद का दर्जा देने व पेंशन देने के सवाल पर मोदी सरकार चुप्पी साध गई है। भाकपा (माले) प्रत्याशी कामरेड कैलाश पाण्डेय ने कहा कि पिछले पांच सालों में कभी लगा ही नहीं कि नैनीताल उधमसिंहनगर लोकसभा क्षेत्र से कोई संसद में यहां का प्रतिनिधित्व करता है। नैनीताल उधमसिंहनगर लोकसभा क्षेत्र के मौजूदा भाजपाई सांसद ने अपने कार्यकाल के पांच वर्षों में अपने वादे के मुताबिक न सिडकुल में शोषण झेल रहे युवाओं की आवाज सुनी, न आशाओं को मासिक वेतन के मामले को कभी उठाया, न जमरानी बांध बनाने की पहल की, न ही एचएमटी फैक्टरी को बचाने का काम किया। वे जनता के पक्ष में कभी एक शब्द तक नहीं बोले। भाकपा के उधमसिंह नगर जिला मंत्री एडवोकेट राजेंद्र प्रसाद गुप्ता ने मेहनतकश जनता से वामपंथी पार्टियों द्वारा समर्थित उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए कहा किए भाजपा का सही विकल्प कम्युनिस्ट पार्टियां ही है। बैठक में सीपीएम के नेता कामरेड सीपी अधिकारी, कामरेड आनंद सिंह नेगी, बहादुर सिंह जंगी, एक्टू के जिल उपाध्यक्ष निरंजन, लठ्ठा मजदूर यूनियन के अध्यक्ष कामरेड  मुबारक शाह, अमनदीप कौर, गणेश दत्त पाठक, ऋषिपाल सिंह, कामरेड विकास, गीता आदि मौजूद रहे। 


Visitors: 340038
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.