17th May 2018 281

किच्छा में कुत्ता काटे तो न जायें सरकारी अस्पताल


किच्छा सामुदायिक अस्पताल में दो महीने से नहीं हैं रैबीज के इंजेक्शन

वेद प्रकाश यादव

किच्छा।स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली का मुद्दा 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में जोर शोर से उठाने वाली भाजपा सरकार को बने हुए एक वर्ष से अधिक का समय हो चुका है। पिछले एक वर्ष में स्वास्थ्य सेवाओं का हाल दिन प्रतिदिन बद से बदतर होता जा रहा है। 

आलम यह है कि किच्छा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे पिछले दो माह से रेबीज का इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हैं और आसपास के मेडिकल स्टोर पर भी उपलब्ध न होने के कारण लोगों को रेबीज का इंजेक्शन ब्लैक में लेने को मजबूर होना पड़ रहा है या फिर रेबीज का इंजेक्शन लगाने के लिए यूपी के अस्पतालों के चक्कर काटने पड़ रहे हैं लेकिन फिर भी इसकी और कोई ध्यान देने को तैयार नहीं है।

सरदार बल्लभ भाई पटेल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र किच्छा में स्वास्थ्य सेवाओं का आलम ये एंटी रैबीज का इजेक्शन अस्पताल में पिछले दो माह से अधिक समय से उपलब्ध नहीं है लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी हो या फिर क्षेत्र के जनप्रतिनिधि कोई भी इस ओर ध्यान देने को तैयार नहीं है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने वादा किया था, लेकिन सरकार गठन के एक वर्ष बाद भी पिछली समस्याएं तो हल नहीं हुई। लेकिन पिछले दो माह से एंटी रैबीज का इंजेक्शन खत्म होने से एक ओर गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। जिसके कारण क्षेत्र की जनता को एंटी रैबीज के इंजेक्शन लगाने के ब्लैक में इंजेक्शन खरीदने को मजबूर होना पड़ रहा हैं। 

सरदार बल्लभ भाई पटेल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे प्रति वर्ष 150 200 पीडितों को एंटी रैबीज इंजेक्शन लगाए जाते है। साथ ही मेडिकल स्टोरों से 1000 1500 पीडित एंटी रैबीज इंजेक्शन लगवाते है। लेकिन पिछले दो माह से एंटी रैबीज इंजेक्शन सरकारी अस्पताल ओर मेडिकल स्टोरों पर उपलब्ध नहीं होने से पीडितों को दर दर भटकना पड़ता है। लेकिन फिर इस गंभीर समस्या की ओर कोई भी ध्यान देने को तैयार नहीं है। इससे लोगों के सामने इंजेक्शन के लिए बड़ी समस्या उत्पन्न हो गई है। देखना यह है कि कब तक प्रशासन इस अस्पताल की सुध लेता है।


इंजेक्शनों को लेकर  उच्चधिकारियों से हुई है वार्ता

पिछले दो माह से एंटी रैबीज के इंजेक्शन अस्पताल मे उपलब्ध नहीं है,  जिसके लेकर उच्च अधिकारियों से वार्ता की गई है। उम्मीद है कि जल्द ही एंटी रैबीज के इंजेक्शन अस्पताल में आ जाएंगे।

            सत्यप्रकाश आर्या,  मुख्य फार्मेसिस्ट

चिकित्सा अधिकारियों से वार्ता कर होगा समाधान

वसुंधरादीप अखबार के माध्यम से मुझे पता चला है कि सीएचसी किच्छा में पिछले दो माह से रैबीज का इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। इस संबंध में जल्द ही चिकित्सा विभाग के उच्च अधिकारियों से वार्ता कर समस्या का समाधान कराया जाएगा।

विवेक राय, पूर्व मंडलाध्यक्ष भाजपा

इंजेशक्शन उपलब्ध नहीं हुआ तो होगा आंदोलन

पूरे प्रदेश मे अफरा तफरी का माहौल है। मुख्यमंत्री जो कहते हैं वह जमीनी स्तर पर कुछ होता नहीं है। स्वास्थ्य सेवा जो जनता की सबसे प्रमुख जरूरत है फिर भी सरकारी अस्पतालों में एंटी रैबीज के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है, उससे ये साफ होता है कि सरकार पूरी तरह से उदासीन है। अगर अस्पताल में जल्द ही रैबीज के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं हुए तो कांग्रेस पार्टी आंदोलन करेगी।

                      संजीव कुमार सिंह, कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता

यूपी से खरीदकर बेचे जा रहे इंजेक्शन

पिछले दो माह से रैबीज के इंजेक्शन ऊपर से नहीं आ रहे है, जिसके कारण किसी भी मेडिकल स्टोर पर रैबीज के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। कुछ जगह जरूर यूपी से रैबीज के इंजेक्शन ब्लैक में बेचे जा रहे है।

संजीव आहूजा,  मेडिकल स्टोर स्वामी


Visitors: 292108
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.