27th May 2018 413

पढिय़े...कांड कर गई यूपी पुलिस और उत्तराखंड पुलिस को भनक नहीं लगी


ट्रांजिट कैंप में बाबा का भेष बनाकर रह रहा था मुस्लिम युवक

सुबह दस बजे मोहल्ले से मारते खींचते ले गए पुलिस वाले

रुद्रपुर। सुबह उत्तर प्रदेश पुलिस कांड करके चुपचाप निकल गई और उत्तराखंड पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। उत्तर प्रदेश पुलिस एक बड़े अपराधी की तलाश में यहां आई थी और जब वह हत्थे चढ़ा तो गलियों से खींचते और पीटते हुए पुलिस वालों ने उसे कार में डाला और लेकर निकल भागे। इस मामले में पुलिस किसी भी प्रकार की जानकारी न होने का दावा कर रही है, लेकिन इस घटना से इलाके में तरह तरह की चर्चा शुरू हो गई है। 

बताया जाता है कि सुबह के करीब दस बज रहे थे। ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र के शिवनगर गली नंबर तीन में रोज की तरह सबकुछ सामान्य चल रहा था कि तभी अचानक हलचल हुई। एक कार गली के बाहर आकर रुकी और कार से कुछ वर्दीधारी नीचे उतरे। उन्होंने किसी से कुछ पूछा नहीं बल्कि गली नंबर तीन में स्थित एक घर में सीधा जा घुसे। 

पुलिस को दो मिनट भी बमुश्किल लगे होंगे जब वह घर के अंदर दाखिल हुए और बाहर निकल आए। पुलिस वाले जब घर से निकले थे उनके चंगुल में एक बाबा था। जिसकी बढ़ी हुई दाढ़ी थी और गले में भगवा अंगौछा पड़ा हुआ था। पुलिस वालों ने उसे जकड़ रखा था और कुछ उसे खींच रहे थे, जबकि कुछ गालियां देते हुए उसकी पिटाई कर रहे थे। स्थानीय लोगों की मानें तो पुलिस उसे मुस्लिम युवक के नाम से बुला रही थी। माना जा रहा है कि पुलिस के चंगुल में आया युवक बड़ा अपराधी और मुस्लिम समुदाय से है। 

पुलिस से बचने के लिए अपराधी ने शिवनगर में शरण ले रखी थी और पहचान छिपाने के लिए वह शिवनगर हिंदू बनकर रह रहा था। खैर, अपराधी कौन था, कहां से आया था और उसे किस जुर्म में पुलिस उठा कर ले गई अभी इस पर कुछ भी साफ नहीं है। ट्रांजिट कैंप पुलिस भी घटना की जानकारी होने से इंकार कर रही है। दो दिन पहले पुलिस किसी रंजीत सिंह नाम के व्यक्ति को तलाशती हुई इसी इलाके में आई थी। 

कहीं पिथौरागढ़ से तो नहीं जुड़े हैं तार

हाल ही में पिथौरागढ़ से एक आईएसआई एजेंट को गिरफ्तार किया गया था। भारतीय खुफिया जानकारी लीक कर रहा था। मामले में आईएसआई एजेंट से कुछ अहम जानकारियां हाथ लगी है। कुछ ऐसा ही संदिग्ध शिवनगर में भेष बदल कर रह रहा था। पिथौरागढ़ और शिवनगर में पकड़े गए आरोपी में काफी समानताएं हैं और जिस तरह से कार्रवाई की गई है। उससे क्षेत्र में तमाम तरह की चर्चाएं गर्म हैं। कुछ लोगों का तो यहां तक कहना है कि गिरफ्त में आया बाबा पिथौरागढ़ में पकड़े गए आईएसआई एजेंट का ही साथी है। 






  



Visitors: 292128
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.