7th June 2017 317

मंदसौर में किसानों ने डीएम को दौड़ा दौड़ा कर पीटा


गुस्साए किसानों ने आठ वाहनों को किया आग के हवाले

दिल्ली/भोपाल। मंदसौर में मंगलवार को किसान आंदोलन के दौरान मारे सभी पांचों किसानों का बुधवार को अंतिम संस्कार किया गया। आज प्रदर्शनकारी किसानों ने आठ वाहनों में आग लगा दी। इससे पहले मंदसौर के कलेक्टर और किसानों के बीच झड़पें हुई। किसानों ने कलेक्टर के कपड़े फाड़ दिए। दौड़ा दौड़ा कर पीटा। कलेक्टर किसानों को समझाने गए थे। गौरतलब है कि मंगलवार को किसानों के आंदोलन दौरान हुई फायरिंग में पांचों किसानों की मौत हुई थी। किसानों के परिजनों ने आज सड़क पर शवों को रखकर चक्काजाम कर दिया था। किसान सीएम शिवराज सिंह चौहान को बुलाने की मांग कर रहे थे। किसानों का कहना था पहले सीएम यहां आएं फिर शवों का अंतिम संस्कार करेंगे। उधर आंदोलन कर रहे किसानों का कहना है कि मौत का बदला लेंगे, मांगे पूरी नहीं होने तक आंदोलन जारी रहेगा। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पुलिस ने नहीं, सीआरपीएफ  ने फायरिंग की।

इससे पहले मंदसौर के कलेक्टर और किसानों के बीच झड़पें हुई। किसानों ने कलेक्टर के कपड़े फाड़ दिए। दौड़ा दौड़ा कर पीटा। कलेक्टर किसानों को समझाने गए थे। इस मामले में कलेक्टर स्वतंत्र कुमार ने कहना है कि किसान ज्यादा हंगामा नहीं कर रहे हैं। कुछ अपराधी तत्व हंगामा कर रहे हैं। मंदसौर की स्थिति फिलहाल काबू में हैं। बाहरी लोग किसानों के परिवारों को भड़का रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने गोली चलाने का आदेश नहीं दिया था। सीएम शिवराज ने मंत्रियों का आपात बैठक बुलाई। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि कांग्रेस किसानों के नाम पर राजनीति कर रही है। मंदसौर में जो हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है। 


Visitors: 291491
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.