17th May 2018 722

साहब, सत्यापन के लिए मैडम मांगती हैं सौ रुपये


सत्यापन के नाम पर उगाही की एसएसपी से शिकायत

रुपये न मिलने पर हाथ में थमा दा जाती है लंबी लिस्ट

रुद्रपुर। सत्यापन के नाम पर ट्रांजिट कैंप पुलिस किस तरह लोगों को उत्पीडऩ करने पर आमादा है इसकी बानगी आज एसएसपी ऑफिस में देखने को मिली। जहां कुछ फरियादियों ने एसएसपी के सामने पुलिस की सारी करतूत का भांडा फोड़ कर दिया। 

एसएसपी को शिकायत सौंपते हुए दिलीप अधिकारी, सोमपाल, कृष्ण पाल, जय गोपाल, हरदेवी, गुरनाम सिंह, वीरपाल ने बताया कि ट्रांजिट कैंप थाने में सत्यापन के लिए एक महिला सिपाही की तैनाती की गई है। आरोप है कि जो भी व्यक्ति महिला सिपाही के पास सत्यापन के लिए जाता है तो मैडम उसे दो बजे आने को कहती हैं। जब दो बजे व्यक्ति सत्यापन के पहुंचता है तो महिला सिपाही उसके हाथ में एक लंबी चौड़ी लिस्ट थमा देती हैं। जिसमें एक सफेद रिम पेपर, एक लीटर गोंद, कार्बन पेपर, स्टेपलर, पेन का डिब्बा लाने के लिए लिखा होता है। अगर सत्यापनकर्ता यह सामान नहीं ला पता तो इसके एवज में उससे सौ रुपये मांगे जाते हैं। जिससे ट्रांजिट कैंप की जनता खासी परेशान है। 

शिकायतकर्ताओं का कहना है कि ट्रांजिट कैंप पुलिस राजा कालोनी, कृष्णा कालोनी, आजाद नगर, नरायण कालोनी में सत्यापन अभियान चलाती है। जो सत्यापन करा चुके होते हैं पुलिस उन्हीं का चालान करती है। इसके अलावा ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र में शिनगर, फुलसुंगा, फुलसुंगी, आनंद विहार और तीनपानी के इलाके भी आते हैं, लेकिन पुलिस ने आज तक इन इलाकों में सत्यापन अभियान नहीं चलाया। अगर कोई व्यक्ति सत्यापन दिखाने के लिए शाम तक का वक्त मांगती है तो पुलिस उसे वक्त देने के बजाय हाथ में चालान थमा देती है। लोगों ने एसएसपी से समस्या के समाधान की गुजारिश की है। 


Visitors: 292108
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.