16th May 2018 299

आधी रात घर से भागी पत्नी, जिंदा फूंकने की कोशिश


देर रात बच्चे छोड़ जान बचाकर भागी महिला मायके पहुंची

मां के साथ पति और ससुर के खिलाफ थाने पहुंची महिला

पुलिस ने किया अनसुना, एसएसपी से शिकायत करेगी महिला

रुद्रपुर। मकान बेचने के लिए एक पति ने अपनी ही पत्नी को बेरहमी से पीटा और रात उसे जिंदा फूंकने की कोशिश की। किसी सूरत महिला जान बचाकर वहां से भागी और सीधा मायके जा पहुंची। सुबह पीडि़ता अपनी के साथ फरियाद लेकर ट्रांजिट कैंप थाने पहुंची। जहां पुलिस ने महिला को टरका दिया। अब महिला एसएसपी से शिकायत करने की बात कह रही है। 

आजाद नगर ट्रांजिट कैंप निवासी छोटे लाल पुत्र दुर्गा प्रसाद पेशे से टुकटुक चालक है। घर में पिता के अलावा पत्नी ऊषा देवी, बेटा कृष्णा (6), प्रीति (3) व अमरपाल (8) हैं। ऊषा की शादी को 14 साल हो चुके हैं। ऊषा की मानें तो उसका पति शराब और जुएं का लती है। इस लत के चलते वह जो भी कमाता है फूंक देता है और अब वह घर बेचने पर आमादा है। घर बेचने का विरोध करने पर छोटे लाल उसके साथ मारपीट करता है। बीती तो छोटे लाल ने हद कर दी। नशे की हालत में घर पहुंचे छोटे लाल ने ऊषा को बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। घर में रखा केरोसिन डाल कर छोटेलाल ने ऊषा को जिंदा जलाने की कोशिश की, लेकिन इससे पहले कि छोटे लाल अपनी नीयत में कामयाब हो पाता ऊषा जान बचाकर भाग खड़ी हुई। रात ही वह अपनी मां के पास पहुंची और सुबह फरियाद लेकर ट्रांजिट कैंप थाने पहुंची। जहां पुलिस ने पारिवारिक मामला बता कर महिला को चलता कर दिया। महिला ने मामले मे एसएसपी से शिकायत की बात कही है।

मैंने निकाल दी कुछ नहीं हुआ, तू भी निकाल दे

ममता की मानें तो उसकी सास यशोदा उसके साथ नहीं रहती और उसके व पति के बीच विवाद की सारी जड़ उसका ससुर दुर्गा प्रसाद है। दुर्गा प्रसाद भी शराब और जुएं का लती है। ममता का आरोप है कि ससुर ने चार साल पहले अपनी पत्नी यशोदा को घर से निकाल दिया था। अब दुर्गा प्रसाद अपने बेटे से कहता है कि मैंने यशोदा को निकाल दिया तो मेरा किसी ने क्या कर लिया। तू भी अपनी पत्नी को घर से निकाल दे। तेरी भी कोई कुछ नहीं कर पाएगा। इतना ही नहीं ऊषा का आरोप पुलिस पर भी है। उसने बताया कि पहले एक बार पुलिस पति को उठा कर लाई थी, लेकिन पुलिस ने ले दे कर मामला निपटा लिया।  



Visitors: 305148
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.