19th September 2018 33

पंजाबी समुदाय के लोगों ने सीएम को भेजा ज्ञापन



देहरादून अतिक्रमण में उजाड़े गये पंजाबी समाज को पुर्नवास की मांग


लालकुआं। देहरादून के प्रेम नगर क्षेत्र में प्रशासन द्वारा चलाए गए अतिक्रमण विरोधी अभियान के अंतर्गत पूर्ण रूप से उजड़े पंजाबी समाज के लोगों के पुनर्वास करने की मांग को लेकर उत्तरांचल पंजाबी महासभा के बैनर तले पंजाबी समुदाय के लोगों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा।
आज तहसील पहुंचे दर्जनों की संख्या में उत्तरांचल पंजाबी महासभा के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए महासभा के अध्यक्ष सरदार गुरदीप सिंह ने कहा कि उच्च न्यायालय के आदेशों के बाद देहरादून की प्रेम नगर और रुद्रपुर सुमित उत्तराखंड के तमाम क्षेत्रों में प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत बहुतायत से पंजाबी लोगों की दुकानें एवं मकान  पूर्ण रूप से ध्वस्त हो गये हैं, जिनमें अधिकांश पीडि़त पंजाबी समुदाय से हैं, उनके पास जीवनव्यापन करने हेतु रोजगार की जगह एवं सिर छुपाने की जगह नहीं बची है। उन्होंने कहा कि 1934 के नक्शे के आधार पर 2018 में की गई इस कारवाई में सभी में गुस्सा हंै।
उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से टिहरी बांध विस्थापितों  एवं देहरादून में चकराता रोड के दुकानदारों को पुनर्वास हेतु अन्य जगह  पुनर्विस्थापित किया गया था। उसी प्रकार से इन्हें भी अन्यत्र स्थान उपलब्ध करवाया जाय और जिनके घर इस अभियान में टूट गए है उनके रहने हेतु अन्यंत्र आवास उपलब्ध कराए जाय। इसके बाद मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन की प्रति तहसील के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी गोपाल सिंह अधिकारी को सौंपी गयी। ज्ञापन देने वालों में पंजाबी महासभा के जिला महामंत्री राजकुमार सेतिया, दीपक बत्रा, आशीष भाटिया, मनोहर लाल अरोरा, चंद्रेश भाटिया, जतिन खुराना, सोनू बत्रा, अरुण प्रकाश बाल्मीकि, नारायण सिंह बिष्ट, संजय अरोरा सहित भारी संख्या में पंजाबी समुदाय के लोग मौजूद थे।




Visitors: 294146
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.