22nd November 2017 156

अमेरिका से खौफ में उत्तर कोरिया, इस तरह से डाला दवाब ...


वाशिंगटन अमेरिका ने उत्तर कोरिया के साथ व्यापार करने वाले चीनी व्यापारियों और उत्तर कोरियाई जहाजों पर नए प्रतिबंध लगाए हैं जिससे अलग थलग पड़े इस देश पर अपना परमाणु कार्यक्रम बंद करने का दबाव एक बार फिर बढ़ गया है. यह कदम तब उठाया गया है जब एक दिन पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया को आतंकवाद का प्रायोजक देश घोषित किया था ।

अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन नुचिन ने कहा, ‘इन प्रतिबंधों में वे कंपनियां भी शामिल हैं जो उत्तर कोरिया के साथ लाखों डॉलर के व्यापार में शामिल हैं. हम जहाजरानी और परिवहन कंपनियों, उनके जहाजों पर भी प्रतिबंध लगा रहे हैं जिससे उत्तर कोरिया के व्यापार और उसके चालबाजी से युद्धाभ्यास करने को बढ़ावा मिलता है.’ ट्रंप ने सोमवार को कहा था कि प्रतिबंधों की यह घोषणा किम जोंग उन की सरकार के खिलाफ ‘‘अधिकतम दबाव बनाने के अभियान’’ का हिस्सा है।


अमेरिका ने प्रतिबंधों की सूची को बढ़ाते हुए चीन की उन कंपनियों को भी इसमें शामिल किया है जिन पर उत्तर कोरिया के साथ कारोबार करने का आरोप है. अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार, चीन स्थित कुछ बैंकों और कंपनियां संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंधों का उल्लंघन करके उत्तर कोरिया के साथ व्यापार कर रही है।


Visitors: 305505
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.