21st August 2018 183

पढिय़े...अनुग्रह का दौरा कांग्रेस की गुटबाजी को दे गया हवा


मौजूदा कार्यकारिणी के नेताओं ने किया कार्यक्रम का बहिष्कार 

रुद्रपुर। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह का पहला दौरा कांग्रेस की गुटबाजी को हवा दे गया। दरअसल, कांग्रेस की महानगर इकाई को श्री सिंह का कार्यक्रम भेजा गया था, मगर ऐन वक्त पर कार्यक्रम में रद्दोबदल कर दिया गया, जिस कारण कांग्रेस के वर्तमान पदाधिकारियों समेत पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। सूत्रों की मानें तो प्रदेश की एक कद्दावर नेता ने प्रदेश प्रभारी के कार्यक्रम में रद्दोबदल कराया।

दरअसल, कांग्रेस में बहुत पहले से गुटबाजी हावी है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का अलग गुट है और नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश का अलग गुट है। आएदिन नेताओं के परस्पर विरोधी बयान सामने आ रहे हैं। इस गुटबाजी को खत्म करने की बजाय इसे हवा दी जा रही है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी सिंह को पहली बार रुद्रपुर आना था। प्रदेश नेतृत्व ने उनके दौरे की जानकारी देते हुए पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ व महानगर अध्यक्ष जगदीश तनेजा को इंतजाम करने की जिम्मेदारी सौंपी थी। जिस पर प्रदेश प्रभारी के ठहरने व सुबह के ब्रेकफास्ट व प्रेस कांफ्रेंस की व्यवस्था महानगर अध्यक्ष ने की थी। प्रेस कांफ्रेंस पूर्व मंत्री बेहड़ के आवास पर होनी तय हुई थी। ऐन वक्त पर व्यवस्था का जिम्मा कांग्रेस के पूर्व महानगर अध्यक्ष हिमांशु गाबा को सौंप दिया गया। नतीजा यह हुआ कि कांग्रेस का एकगुट कार्यक्रम में नहीं पहुंचा। प्रदेश प्रभारी के कार्यक्रम में वर्तमान पदाधिकारियों की गैरमौजूदगी चर्चा में रही। यानि फिर से कांग्रेस को गुटबाजी की आग में झोंकने का प्रयास किया जा रहा है, इसके परिणाम क्या होंगे यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा लेकिन इससे अच्छा संदेश नहीं गया।

नेता प्रतिपक्ष ने कराई प्रदेश प्रभारी के कार्यक्रम में तब्दीली: बेहड़

रुद्रपुर। पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ ने कहा कि प्रदेश प्रभारी से उनकी देहरादून में मुलाकात हो चुकी है। कहा कि प्रदेश स्तर से उनका कार्यक्रम आया था। कार्यक्रम के मुताबिक उन्होंने इंतजाम भी करा दिया था, मगर ऐन वक्त पर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने प्रदेश प्रभारी का कार्यक्रम तब्दील करा दिया। कहा कि ऐसे में उनके कार्यक्रम में जाने का कोई औचित्य नहीं था। कहा कि प्रेस कांफ्रेंस उनके आवास पर होनी थी। इस संबंध में उन्होंने इंदिरा हृदयेश से बात भी की थी, लेकिन उन्होंने कहा कि वह हिमांशु गावा को जुबान दे चुकी हैं। लिहाजा अब कार्यक्रम वहीं होगा।



Visitors: 303450
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.