13th June 2018 450

बलात्कार और साजिश में उलझी सगाई की कहानी


जिस मंगेतर पर बलात्कार का आरोप, उसने दर्ज कराई क्रास एफआईआर

ललड़की पहले ही दर्ज करा चुकी है लड़के पर बलात्कार का मुकदमा

लड़की के चरित्र पर लांछन लगा अब लड़के ने दर्ज कराया मुकदमा

रुद्रपुर। सगाई, बलात्कार और साजिश की कहानी में अब पुलिस उलझ कर रही है। क्योंकि कोर्ट के आदेश पर पुलिस को आरोपी पर बलात्कार का मुकदमा भी दर्ज करना पड़ा और आरोपी की शिकायत पर बलात्कार पीडि़ता के खिलाफ भी मुकदमा लिखना पड़ा। दोनों की कहानी एक दूसरे के विपरीत है और पुलिस उलझ कर रह गई है कि सगाई, बलात्कार और शादी टूटने तक की कहानी में कौन साजिश कर रहा है और कौन सच बोल रहा है। 

फिलहाल मामले में सबसे पहले पुलिस ने फाजलपुर महरौला के रहने वाले जितेंद्र पाल पुत्र बाबू राम समेत पूरे परिवार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराते हुए कहा था कि जितेंद्र और उसकी शादी तय हुई थी। सगाई होने के बाद जितेंद्र ने एक रोज उसे शॉपिंग करने के बहाने बाजार बुलाया और फिर उसे एक होटल में ले गया। जहां कोल्ड ड्रिंक में नशीली गोली मिलाकर उसे पिला दिया।  बेहोश होने के बाद जितेंद्र ने उसके साथ बलात्कार किया। होश आने पर अपनी शादी की दुहाई देकर लड़की का मुंह बंद करा दिया। आरोप है कि इसके बाद जितेंद्र ने उसके पिता से पचास हजार रुपये मांगे। पिता ने पैसे दे दिए, लेकिन इसके बाद जब शादी की तारीख नजदीक आने लगी तो जितेंद्र और परिजनों ने शादी में पांच लाख दहेज की मांग कर दी। जब गरीब पिता यह रकम नहीं दे सका तो जितेंद्र ने शादी तोड़ दी। मामले में पीडि़ता का कहना है कि वह फरियाद लेकर पुलिस के पास गई, लेकिन उसकी सुनी नहीं गई। जिसके बाद कोर्ट में गुहार लगाने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। 

इधर, मामले में बीते रोज नया मोड़ आ गया। जब कोतवाली पुलिस को बलात्कार पीडि़ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज करना पड़ा और यह मुकदमा भी कोर्ट के आदेश पर दर्ज किया गया। मामले में वादी जितेंद्र का कहना है कि सगाई होने के बाद उसके पास सुनील यादव का फोन आया। सुनील मूलरूप से हरियाणा कुरुक्षेत्र का रहने वाला है और यहां प्रीत विहार में रहकर सिडकुल की एक कंपनी में काम करता है। सुनील ने फोन पर जितेंंद्र ने कहाकि वह लड़की से प्यार करता है और दोनों कई बार हम बिस्तर हो चुके हैं। इसलिए अच्छा होगा कि वह लड़की से शादी न करे। अगर फिर भी शादी नही टली तो वह जितेंद्र को जान से मार देगा। 

इस बारे में जितेंद्र ने लड़की से पूछा तो उसने कहा कि हां हम प्यार करते थे, लेकिन अब हमारे बीच कुछ नहीं है। इस पर जितेंद्र ने भरोसा कर लिया, लेकिन एक रोज जितेंद्र किसी काम के सिलसिले में बाजार आया। यहां धोबीघाट स्थित एक होटल से निकलते हुए जितेंद्र ने लड़की और उसके प्रेमी सुनील को देख लिया। इस पर जितेंद्र ने शादी तोड़ दी। जिसके बाद लड़की ने धमकी दी कि अगर उसने शादी तोड़ी तो वह फर्जी मुकदमे में उसे और उसके परिवार को फंसा देगी। धमकी के बाद भी जब जितेंद्र नहीं माना तो लड़की ने मुकदमा दर्ज करा दिया।  


मासूम से दुष्कर्म, नाबालिग आरोपी फरार

रुद्रपुर। रम्पुरा चौकी क्षेत्र में एक नाबालिग ने बच्चे को अपनी हवस का शिकार बना डाला। मामले खुलते ही आरोपी नाबालिग मौके से फरार हो गया। पीडि़त परिवार ने रात ही रम्पुरा चौकी में आरोपी के खिलाफ तहरीर दी।बताया जाता है कि रम्पुरा चौकी क्षेत्र में एक छह वर्षीय बच्चा रहता है। इसी बच्चे के पड़ोस में एक 16 वर्षीय नाबालिग किशोर रहता है। आरोप है कि नाबालिग ने बहाने से बच्चे को अपने पास बुलाया और एक सूनसान स्थान पर लेकर जा कर उसके साथ दुष्कर्म किया। साथ ही धमकी दी कि अगर उसने यह बात किसी को बताई तो वह उसे जान से मार देगा। मामले में बच्चा रोते हुए घर पहुंचा। जब परिजनों ने उसके रोने का कारण पूछा तो पहले डर की वजह से बच्चा कुछ नहीं बोला, लेकिन जब परिवार वालों ने प्यार से पूछा तो उसने आरोपी किशोर की सारी करतूत परिवार वालों के खिलाफ खोल कर रख दी। इलाके जैसे ही बच्चे से दुष्कर्म की बात खुली तो आरोपी मौके से फरार हो गया। इसको लेकर इलाके में खासा तनातनी का माहौल हो गया। लड़के के भाग जाने के पास परिजन बच्चे को लेकर रात ही रम्पुरा चौकी पहुंचे और आरोपी के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने रात ही जिला अस्पताल में बच्चे का मेडिकल कराया और आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।  पुलिस तलाश के साथ पूरे मामले की जांच में जुट गई है। 



Visitors: 312679
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.