11th July 2018 86

साजिश के तहत पूर्व डायरेक्टर का मतदाता सूची से नाम काटा


पूर्व डायरेक्टर ने डीएम से की फरियाद

रुद्रपुर। धर्मपुर (मटकोटा) निवासी कृपाल सहाय ने सहकारी समिति चुनाव में मतदाता सूची से जानबूझ कर उसका नाम हटाने की शिकायत जिलाधिकारी से की है। उसका कहना है कि वह 2013 से 2018 तक बोर्ड में डायरेक्टर के पद पर अपनी जिम्मेदारी निभा चुका है। वह इस बार फिर चुनाव लडऩा चाहता है, लेकिन अनंतिम सूची में उसका नाम नहीं है। उसने आरोप लगाया है कि एक साजिश के तहत जानबूझ कर उसे चुनाव लडऩे से वंचित किया जा रहा है।

धर्मपुर निवासी कृपाल सहाय पुत्र मेवा राम के पास इस बात का प्रमाण है कि वह पूर्व में डायरेक्टर रहा है, लेकिन इस बार उसे चुनाव लडऩे से वंचित करने के उद्देश्य से मतदाता सूची से उसका नाम हटा दिया गया है।  उसने बताया कि इस बावत उसने सचिव से जानकारी लेनी चाही तथा अपनी आपत्ति दर्ज कराई तो सचिव ने उसकी आपत्ति पर नोट लगा दिया कि सदस्यता रजिस्टर के क्रमांक संख्या 800 से 984 तक प्रार्थी का नाम अंकित न होने के कारण उसका नाम नहीं जोड़ा जा सकता। उसका तर्क है कि समिति का चुनाव करीब 1500 सदस्यों की मतदाता सूची पर होनी है तो उसका नाम कैसे काटा जा सकता है। उसका कहना है कि जब पहले डायरेक्टर रहा है तो उसका नाम किसी न किसी रजिस्टर में होना चाहिए। उसने जिलाधिकारी से मांग की है कि इस मामले की जांच कराकर उसे चुनाव लडऩे का अवसर दिलाया जाए। डीएम से मिलने वालों में कांग्रेस नेता मोहन खेड़ा, दिनेश पंत, रामदयाल, शंकर सिंह, भुवन चंदोला आदि मौजूद थे।



Visitors: 305147
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.