17th May 2018 246

एचडीएफसी बैंक के ग्राहक रहे हैं अपराधियों के निशाने पर


लूट के प्रयास में खाली हैं पुलिस के हाथ

शगुन के हौंसले के आगे भाग गए थे बदमाश

रुद्रपुर। नैनीताल रोड पर स्थित एचडीएफसी बैंक के समीप एक नहीं अनेक वारदातें हो चुकी हैं, लेकिन अपराधी आज तक पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। कल हुए लूट के प्रयास व व्यापारी को गोली मारने की घटना में भी पुलिस के हाथ खाली हैं। वह तो व्यापारी ने हौंसला कायम रखा, अन्यथा तमंचा देखकर तो अच्छे अच्छे होश खो बैठते हैं। यदि व्यापारी ने बदमाशों का मुकाबला न किया होता तो लूट की वारदात होना पक्की थी। हालांकि बैंकों की सुरक्षा के लिए चीता मोबाइल भी लगाई गई हैं, लेकिन अपराधी कभी भी रंगे हाथ नहीं पकड़े जाते।

जिले में लूट की एक नहीं अनेक वारदातों में बदमाश मोटरसाइकिल का ही प्रयोग करते हैं और अनेक ऐसे मामले हैं जिनमें एक बाइक पर तीन लोग सवार होकर वारदात को अंजाम देते हैं। यहां सवाल यह है कि महानगर में हर चौराहे पर सीपीयू का पहरा है तो फिर यह लुटेरे समय रहते क्यों नहीं पकड़े जाते? कल जिस तरह एचडीएफसी बैंक के गेट पर व्यापारी शगुन भुड्डी से रुपयों से भरा बैग लूटने की कोशिश हुई उसमें भी लुटेरों की संख्या तीन ही थी और तीनों एक ही बाइक पर सवार थे। एक बाइक पर तीन लोगों के चलने की अनुमति नहीं है, फिर कैसे तीन लोग एक बाइक पर चल रहे थे। फरार होते वक्त अथवा वारदात को अंजाम देने से पहले कहीं चेकिंग में क्यों नहीं फंसे? एक सवाल यह भी है कि संदिग्ध किस्म के लोगों की पुलिस तलाशी क्यों नहीं लेती? अनेक वारदातों में तमंचे का इस्तेमाल होता है। यदि फिजीकल चेकिंग हो रही होती तो अपराधियों में पुलिस का डर रहता। सीपीयू कर्मी अथवा पुलिस कर्मियों की चेकिंग सिर्फ वाहन के कागजात चेक करने और चालान करने तक सीमित रहती है, जिस कारण अपराधी प्रवत्ति के लोग अवैध असलहे साथ लेकर सफर तय कर लेते हैं। पुलिस को इस दिशा में अपनी रणनीति पर विचार करना होगा, ताकि अवैध असलहों के साथ सफर करने वाले अपराधी वारदात को अंजाम देने से पहले ही गिरफ्तार किए जा सकें।

महानगर की नैनीताल रोड स्थित एचडीएफसी बैंक शुरू से अपराधियों के निशाने पर रही है। एक नहीं कई वारदातें एचडीएफसी बैंक के सामने हो चुकी हैं, लिहाजा पुलिस के लिए यह संवेदनशील प्वाइंट होना चाहिए था। यहां अतिरिक्त सतर्कता बरती जानी चाहिए। कल व्यापारी शगुन के साथ हुई घटना में अभी तक पुलिस के हाथ खाली हैं। हालांकि पुलिस को अपराधियों की सीसीटीवी फुटेज मिल चुकी है। पुलिस ने अन्य स्थानों पर लगे सीसीटीवी की फुटेज भी खंगाली हैं। पुलिस अपराधियों तक पहुंचने के लिए सर्विलांस की भी मदद ले रही है।



Visitors: 292106
© 2018 Vasundhara Deep News. All rights reserved.