spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडछात्रा पर जानलेवा हमला करने वाले युवक और उसके साथी को पुलिस...

छात्रा पर जानलेवा हमला करने वाले युवक और उसके साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Spread the love

छात्रा पर जानलेवा हमला करने वाले युवक और उसके साथी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

काशीपुर। छात्रा पर जानलेवा हमला करने वाले युवक और उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।पुलिस क्षेत्राधिकारी अनुषा बडोला ने बताया कि पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त के घर दबिश दी गयी तो घर पर ताला लगा मिला। इसके बाद मुखबिर की सूचना पर मुख्य अभियुक्त फरदीन, जो कि पुलिस के डर से ढेला पुल से नदी में कूद गया, को पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया। जामा तलाशी में उसके कब्जे से एक अदद तंमचा 32 बोर मय दो जिन्दा कारतूसों के बरामद हुआ। इस पर अभियुक्त फरदीन के विरुद्ध धारा 3/25 शस्त्र अधिनियम के तहत भी मुकदमा पंजीकृत किया गया है। सीओ के मुताबिक, गिरफ्तार अभियुक्त फरदीन ने पूछताछ में बताया कि वह अपने मौहल्ले की एक लड़की से बेपनाह प्यार करता है और उससे शादी करना चाहता है। उसके घर वाले भी राजी है लेकिन मौहल्ले की लड़की को वह प्रपोज करता है तो वह राजी नहीं हो रही है। इस कारण लड़की के परिवार वालों ने उसके विरुद्ध थाना काशीपुर में तीन-चार मुकदमें भी लिखवा दिये हैं। तब उसने मन में ठान लिया कि आखिरी बार मौहल्ले की लड़की को प्रपोज करेगा अगर वह नहीं मानी तो उसकी जीवन लीला समाप्त कर देगा।

योजना के तहत सोमवार शाम करीब तीन बजे एक दुकान से डेढ़ सौ रुपये का पाटल खरीदा तथा एक तमंचा और दो कारतूस पहले से ही मेरे पास थे। मैंने सोचा आज मैं लड़की को प्रपोज करूंगा, यदि वह नहीं मानी तो पाटल से काटकर उसको गोली मारकर उसकी जीवन लीला समाप्त कर दूंगा। फिर मैं अपने दोस्त रऊफ के साथ लड़की का रास्ते मे इन्तजार करने लगा। मेरी इस योजना में मेरे परिवार के लोग भी शामिल थे। जब मैंने लड़की को रोका तो मेरे भाई बिलाल, आकिल, अनस, अफरीदी तथा मेरे पिता रिजवान दूर से खड़े होकर बार-बार मुझे चिल्ला कर कह रहे थे आज इसे मार ही दे। फिर जैसे ही मैंने लड़की को उसकी बहन के साथ आते देखा तो मैंने अपने दोस्त को कुछ दूर खड़ा करके पाटल को अपनी कमर में छिपा कर लड़की के पास गया और लड़की को प्रपोज किया। लड़की के मना करने पर मैंने पाटल से लड़की को जान से मारने की नीयत से उसके सिर व हाथ में वार किये। लड़की के चिल्लाने की आवाज सुनकर आसपास के लोग आ गये तो डर की वजह से मैं पाटल लेकर वहां से भाग गया और उसी समय मेरे परिवार के लोग भी वहां से फरार हो गये। मैं भी भाग कर मुरादाबाद चला गया। वहां मेरे रिश्तेदारों से मुझे जानकारी हुई कि मेरे खिलाफ मुकदमा हो गया है और पुलिस मेरे पीछे मुरादाबाद तक आई है तो मैं घबराकर छिपते हुए काशीपुर आकर अपना सामान लेने आया था कि ढेला पुल के पास मेरे पीछे पुलिस भागी जिस कारण अपनी जान बचाने के लिये मैं ढेला पुल से नीचे कूद गया जिस कारण मेरा पैर भी फ्रैक्चर हो गया। सीओ बडोला ने बताया कि अभियुक्त शातिर किस्म का अपराधी है। थाने में इसके विरुद्ध अन्य अभियोग भी पंजीकृत हैं। पूर्व में भी वह जेल जा चुका है। सीओ ने बताया कि फरदीन के साथी रऊफ को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप मिश्रा, कटोराताल चौकी प्रभारी विपुल जोशी, टांडा उज्जैन चौकी प्रभारी मनोज जोशी, बासंफोड़ान चौकी प्रभारी सुनील सुतेड़ी, उपनिरीक्षक संतोष देवरानी, कंचन पड़लिया, चित्रगुप्त,

अपर उपनिरीक्षक प्रकाश बोरा, कांस्टेबल प्रेम कनवाल, मुकेश कुमार, दीपक कुमार, गिरीश मठपाल, ईश्वर सिंह, गजेन्द्र गिरी, किशोर फर्त्याल, सुरेन्द्र सिंह, दीपक जोशी,रमेश पाण्डेय,अनिल कुमार व

अमरदीप सिंह थे।


Spread the love
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News
error: Content is protected !!