spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडबेकरी संचालक को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस ने...

बेकरी संचालक को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

Spread the love

बेकरी संचालक को गोली मारकर घायल करने के मामले में पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

काशीपुर। बेकरी संचालक को गोली मारकर घायल करने के मामले का खुलासा करती पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त 12 बोर का तमंचा व खोखा कारतूस बरामद किया है। बताते चलें कि आवास विकास कालोनी में बेकरी संचालक ढकिया नंबर-दो कुंडेश्वरी निवासी अजय सिंह पुत्र नारायण दास बीती 30 दिसंबर की रात करीब साढ़े नौ बजे अपनी दुकान बंद कर पिता के साथ मोटरसाइकिल से घर लौट रहा था। इस बीच नूरपुर मोड़ पर बाइक सवार लोगों ने उस पर फायर झोंक दिया। पेट में छर्रे लगने से अजय घायल होकर बाइक समेत गिर गया। पीछे बैठे उसके पिता चोटिल हो गए। मामले में ढकिया नंबर-एक कुंडेश्वरी निवासी योगेश कुमार पुत्र धर्मचन्द की तहरीर पर पुलिस ने बाइक सवार दो अज्ञात व्यक्तियों पर केस दर्ज कर घटना के खुलासा के लिए टीमें घटित कीं। टीमों द्वारा की गई पड़ताल के दौरान जानकारी मिली कि अजय के जीजा अनिल गुम्बर पुत्र करम चंद निवासी श्यामनगर गदरपुर की अजय की पत्नी पर बुरी नजर थी। अनिल अपने साले अजय को रास्ते से हटाना चाहता था जिससें अजय की पत्नी को विश्वास में लेकर अजय की मूल्यवान जमीन को बेचकर दोहरा लाभ प्राप्त कर सके। अनिल ने चार पांच-माह पूर्व भी अजय पर हमला कराया था। इसमें अजय को चोटे आयी थी लेकिन अजय ने मारपीट को रोडरेज की घटना समझकर गम्भीरता से नहीं लिया और पुलिस में शिकायत भी नहीं की। दोबारा अपने मंसूबे परवान चढ़ाते हुए अनिल ने फर्म पर काम करने वाले राजू पुत्र राजपाल निवासी ग्राम खटोला दिनेशपुर व हीरालाल पुत्र रामसुभाष निवासीआदर्श नगर गदरपुर को तीन लाख रूपये की सुपारी व तंमचा दिया जिससे अजय की हत्या कर दी जाये और उसके परिवार व सम्पत्ति को अपने में मिला लिया जाये। मामले का खुलासा करते हुए एसपी अभय सिंह ने बताया कि घटना में संलिप्त राजू की बेटी की आगामी 31 जनवरी को शादी है। पैसे के लालच में राजू व हीरा इस घटना करने को तैयार हो गये। बीती 30 दिसम्बर को राजू व हीरा ने दुकान से ही अजय का पीछा किया और मौका मिलते ही रास्ते में गोली मार दी। पुलिस टीम के द्वारा सीसीटीवी व टैक्निकल साक्ष्य के आधार पर राजू की घटना में संलिप्ता चिन्हित हुई। राजू से सख्ती से पूछताछ करने पर वह टूट गया और जुर्म इकबाल कर लिया। मामले में पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर बीते रोज पुलिस टीम ने तीनों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त एक अदद 12 बोर तंमचा व खोखा कारतूस जो घटना करने के बाद खाली खेत में फेंक दिया गया था, को कुण्डेश्वरी-रामनगर रोड स्थित पेट्रोल पम्प के पास से बरामद कर लिया। सीओ अनुषा बड़ोला ने बताया कि उक्त अभियोग में धारा 336/120बी आईपीसी व 3/25 शस्त्र अधिनियम की वृ(ि की गयी है। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप मिश्रा, कुण्डेश्वरी चौकी प्रभारी विनोद जोशी, उपनिरीक्षक संतोष देवरानी, मनोज जोशी, कपिल कम्बोज, सुनील सुतेड़ी, दीपक जोशी व देवेन्द्र सामन्त, हेड कां. किशोर कुमार, कां. मुकेश कुमार, गजेन्द्र गिरी, कुलदीप सिंह, जगदीश प्रसाद, सुरेन्द्र सिंह व दीवान गिरी के अलावा एसओजी टीम में कां. विनय यादव, कैलाश तोमक्याल, दीपक कठैत व प्रदीप शामिल रहे।


Spread the love
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News
error: Content is protected !!