spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडक्लीनिक में चोरी मामले में शक के आधार पर पुलिस ने चार...

क्लीनिक में चोरी मामले में शक के आधार पर पुलिस ने चार लोगों को नामजद किया

Spread the love

क्लीनिक में चोरी मामले में शक के आधार पर पुलिस ने चार लोगों को नामजद किया

काशीपुर। क्लीनिक में चोरी मामले में शक के आधार पर पुलिस ने चार लोगों को नामजद किया है। आजाद नगर, टांडा उज्जैन निवासी नवनीत कौर पत्नी कमलजीत सिंह ने पुलिस उपमहानिरीक्षक, कुमायूँ डिवीजन, नैनीताल को प्रार्थना-पत्र देकर बताया कि उसने एक क्लीनिक डॉ. डीएन मुल्तानी हेल्थ केयर प्वांइट मेन चौराहे पर रजिस्टर्ड करा रखा है। जिसके संचालक डा. एके गोयल पुत्र स्व. एसपी गोयल निवासी आवास विकास काशीपुर हैं, जो क्लीनिक में मरीजों, विशेषकर नशा मुक्ति का इलाज करते हैं और नशा छुड़ाने के लिये नियमानुसार दवाई देते हैं। अक्सर नशेड़ी व्यक्ति क्लीनिक पर आकर हंगामा करते रहते हैं तथा डा. गोयल को धमकी देकर चले जाते हैं। बीते 4 सितम्बर की शाम करीब पांच बजे डा. गोयल ने उन्हें बताया कि जब वह क्लीनिक बन्द कर रहे थे तो शिवम उर्फ कालू नाम का एक व्यक्ति आया और जबरदस्ती दवाई लेने के लिये कहने लगा। मना करने पर देख लेने की धमकी देता हुआ चला गया। इससे पहले भी राकेश, शादाब, राहुल (बॉबी) व नासिर भी इसी तरह की धमकी दे चुके हैं। 5 सितम्बर की सुबह जब डा. गोयल ने अपने कंपाउंडर के साथ क्लीनिक खोला तो देखा कि क्लीनिक में लाईट जली है व बहुत सारी दवाईयां गायब हैं। चोरी हुई दवाईयां एनडीपीएस के अन्तर्गत आती हैं जिनका गलत उपयोग हो सकता है। सीसीटीवी कैमरे और वाईफाई भी गायब हैं। शक के आधार पर पुलिस ने उक्त चारों लोगों के खिलाफ बाइस्तवा में केस दर्ज किया है।

काशीपुर। क्लीनिक में चोरी मामले में शक के आधार पर पुलिस ने चार लोगों को नामजद किया है। आजाद नगर, टांडा उज्जैन निवासी नवनीत कौर पत्नी कमलजीत सिंह ने पुलिस उपमहानिरीक्षक, कुमायूँ डिवीजन, नैनीताल को प्रार्थना-पत्र देकर बताया कि उसने एक क्लीनिक डॉ. डीएन मुल्तानी हेल्थ केयर प्वांइट मेन चौराहे पर रजिस्टर्ड करा रखा है। जिसके संचालक डा. एके गोयल पुत्र स्व. एसपी गोयल निवासी आवास विकास काशीपुर हैं, जो क्लीनिक में मरीजों, विशेषकर नशा मुक्ति का इलाज करते हैं और नशा छुड़ाने के लिये नियमानुसार दवाई देते हैं। अक्सर नशेड़ी व्यक्ति क्लीनिक पर आकर हंगामा करते रहते हैं तथा डा. गोयल को धमकी देकर चले जाते हैं। बीते 4 सितम्बर की शाम करीब पांच बजे डा. गोयल ने उन्हें बताया कि जब वह क्लीनिक बन्द कर रहे थे तो शिवम उर्फ कालू नाम का एक व्यक्ति आया और जबरदस्ती दवाई लेने के लिये कहने लगा। मना करने पर देख लेने की धमकी देता हुआ चला गया। इससे पहले भी राकेश, शादाब, राहुल (बॉबी) व नासिर भी इसी तरह की धमकी दे चुके हैं। 5 सितम्बर की सुबह जब डा. गोयल ने अपने कंपाउंडर के साथ क्लीनिक खोला तो देखा कि क्लीनिक में लाईट जली है व बहुत सारी दवाईयां गायब हैं। चोरी हुई दवाईयां एनडीपीएस के अन्तर्गत आती हैं जिनका गलत उपयोग हो सकता है। सीसीटीवी कैमरे और वाईफाई भी गायब हैं। शक के आधार पर पुलिस ने उक्त चारों लोगों के खिलाफ बाइस्तवा में केस दर्ज किया है।


Spread the love
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News
error: Content is protected !!