spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडतराई को आबाद करने में सिक्ख समाज का बहुत बड़ा योगदान :धामी

तराई को आबाद करने में सिक्ख समाज का बहुत बड़ा योगदान :धामी

spot_imgspot_img
Spread the love

तराई को आबाद करने में सिक्ख समाज का बहुत बड़ा योगदान :धामी

 

मुख्यमंत्री धामी ने विभाजन विभषिका स्मृति स्थल बनाने की घोषणा की

 

रूद्रपुर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गिल रिजोर्ट पहुॅचकर युवा सिक्ख सम्मेलन कार्यक्रम में प्रतिभाग कर सभी का अभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घोषणा करते हुए कहा कि 1947 में देश का विभाजन हुआ और विभाजन विभीषिका पर शहीदों को याद करने, उनकों स्मरण करने के लिए पूरे देश में विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया जाता है, विभाजन विभषिका स्मृति स्थल का निर्माण रूद्रपुर में जल्दी कराया जायेगा। आनन्द कारज एक्ट जो मन्त्रीमण्डल ने निर्णय लिया है,उस आनन्द कारज एक्ट को बहुत जल्दी लागू करेंगे। पांच लाख तक के किसानों के लोन पर स्टाम्प ड्यूटी की छूट पहले की तरह जारी रहेगी। वर्ग चार की जो नियमितीकरण की पोलिसी है, उसको अभी आगे बढ़ाया जायेगा।

उन्होंने कहा कि यहॉ से ट्रेन अमृतसर तक के लिए चले, पुनः रेलमंत्री से आग्रह किया जायेगा और प्रमुख एजेन्डे में शामिल किया जायेगा।

श्री धामी द्वारा 100 से भी ज्यादा बार ब्लड डॉनेट करने वाले जगदीश सिंह गोल्डी, दिलजीत सिंह, हरविन्दर सिंह चुघ को अंग वस्त्र ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

श्री धामी ने कहा कि प्रथम गुरू गुरूनानक जी लेकर दशमेश गुरू तक सभी को नमन किया। उन्होंने कहा कि सभी का सहयोग, प्रेम व एकजुटता ही है जो हमें विषम परिस्थितियों में भी प्रदेश में अनेकों-अनेकों विकास कार्य करने की प्रेरणा देता है। उन्होेने सभी दशमेश से लेकर समस्त देवी देवताओं को नमन करते हुए प्रार्थना की कि उनके अन्दर जो राज्य की सेवा करने का भाव है, और समाज को आगे पहुचाने का हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प है, वह संकल्प और मजबूत हो, यह सेवा भाव हमारे अन्दर दिन प्रतिदिन बढ़ता रहे, जिससे अपने दायित्वों के साथ न्याय कर सकू श्री धामी ने कहा कि तराई को आबाद करने में सिक्ख समाज का बहुत बड़ा योगदान है। प्रथम गुरू गुरूनानक से लेकर दशमेश गुरूओं के किसी न किसी रूप में चरण पड़े और आशीर्वाद मिला है और उनके आशीर्वाद से यह धरती लगातार ये धरती कृषि के क्षेत्र में, उद्योग के क्षेत्र में, आज विकास के क्षेत्र में पूरे हिन्दुस्तान के अन्दर एक लधु भारत (मिनी इण्डिया) के स्वरूप का संदेश पूरे विश्व में जाता है। श्री धामी ने कहा गुरूनानक जी से लेकर गुरू तेगबहादुर जी तक समस्त गुरूओं ने राष्ट्र को प्रथम रखा और पूरे राष्ट्र और धर्म को एक सूत्र में पिरोने का कार्य किया, इसके लिए उन्होंनेे जितनी कुर्बानिया दी वह हम सब भली भांति जानते है। इसलिए आज भी हम उनका श्रद्धापूर्वक स्मरण करते है। हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो श्रद्धापूर्वक शहजादों की कुरबानी पर वीर बाल दिवस मनाने का संकल्प लिया था और पूरे देश में वीर बालदिवस मनाया जा रहा है। उन्होने कहा कि सिक्ख भाईयों का देश के लिए जो योगदान है, उसको शब्दों में व्यक्त कर पाना नामुमकिन है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का जो एक भारत, श्रेष्ठ भारत का ध्यय वाक्य है,

इस वाक्य को जीवंत करने का कार्य कोई कर रहा है तो हमारी सिक्ख पम्परा कर रही है। उन्होने कहा सिक्खों द्वारा नानकमता साहिब में हमेशा लगंर की व्यवस्था रहती है, जगह-जगह प्याऊ लगाकर व गुरूद्वारों द्वारा लगंर की व्यवस्था कर भूखों को भोजन कराकर सिक्खों द्वारा जिस सेवा भाव से कार्य किया जाता है वह सराहनीय है। उन्होने कहा हमारे प्रधानमंत्री के नेृत्तव में जो हमारी डबल इंजन की सरकार हर वर्ग के उत्थान के लिए कार्य कर रही है। श्री धामी जी ने कहा हर उलझे हुए मामले हो, चाहे वह कर्मचारी की बात हो, चाहे वह अन्य वर्ग की बात हो हर किसी मामलों में हमारा सकारात्मक रूप रहता है हम चीजों को उलझानें में नही बल्कि सुलझानें में विश्वास रखते है। उन्होने कह आज विदेशों में रहने वाले जो अप्रवासी भारतीय हैं, हरविन्दर साहब में कन्ट्रीब्यूशन रेगूलेशन एक्ट एफसीआरए में परिवर्तन करके वहां बिना परेशानियों के दान मिल सके व लगंर में जीएसटी ना लगें इसकी चिन्ता भी हमारे प्रधानमंत्री जी द्वारा की है। उन्होने कहा मोदी द्वारा करतापुर साहब नानक साहिब में 120 करोड़ की लागत से कोरीडोर की व्यवस्था करने का काम भी नरेन्द्र मोदी ने किया है। श्री धामी ने कहा 1984 के दगों पर भी एसआईटी बनाकर जेल भेजने का कार्य की बात हो या फिर अफगानिस्तान की तालिबानी हुकुमत से पवित्र गुरूगन्थ साहब को हिन्दुस्तान लाने का कार्य भी प्रधानमंत्री द्वारा किया गया। उन्होने कहा प्रधानमंत्री द्वारा जो हमें नो रत्न समर्पित किये गये हैं, उसमें से एक रत्न हमारा गोविन्दघाट से हेमकुण्ड साहब तक बनने वाला रोपवे है, जिससे 19 किमी. की पैदल चलने वाली चढ़ाई 9 मिनट में पूरी हो जायेगी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के पश्चात उनके द्वारा कठौर कदम उठाए गए है।उन्हों नकल रोकने के लिए देश का सबसे सख्त नकल विरोधी कानून, धर्मान्तरण विरोधी कानून, लैण्ड तथा लव जेहाद, महिला आरक्षण पर काम किया है और जल्द ही प्रदेश में यूनिर्फाम सिविल कोड लागू किया जायेगा।

इस अवसर पर कैबीनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा,राज्य मंत्री उत्तर प्रदेश बलदेव सिंह ओलख, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट, विधायक शिव अरोरा, त्रिलोक सिंह चीमा, अरविन्द पाण्डे, पूर्व विधायक राजेश शुक्ला, डॉ.शैलेन्द्र मोहन सिंघल द्वारा भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये गये। कार्यक्रम का संचालन गुरविन्दर सिंह चण्डोक द्वारा किया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी उदयराज सिंह, एसएसपी मन्जूनाथ टीसी, अपर जिलाधिकारी जय भारत सिंह, सहित उपाध्यक्ष अल्पसंख्यक आयोग सरदार इकबाल सिंह, किसाना आयोग के उपाध्यक्ष राजपाल सिंह, दर्जा राज्य मंत्री उत्तम दत्ता, बीजेपी जिलाध्यक्ष गुंजन सुखीजा, कमल जिन्दल, सहित विकास शर्मा, भारत भूषण चुघ, पूर्व विधायक प्रेम सिंह राणा के अलावा जनसमूह उपस्थित था।


Spread the love
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News
error: Content is protected !!