- Join Our Whatsapp Group -
Home देश चारा घोटाला: रांची की CBI कोर्ट ने सुनाया फैसला, लालू यादव दोषी...

चारा घोटाला: रांची की CBI कोर्ट ने सुनाया फैसला, लालू यादव दोषी करार 

पटना: अविभाजित बिहार के 950 करोड़ रुपये के बहुचर्चित चारा घोटाले  से जुड़े पांचवें मामले में भी राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू यादव  दोषी करार दिए गए हैं. रांची की सीबीआई कोर्ट ने डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ के ग़बन के मामले में उन्हें दोषी करार दिया है.

कोर्ट ने इस मामले में 24 लोगों को बरी कर दिया है, जबकि लालू के करीबी नेता जगदीश शर्मा और ध्रुव भगत समेत 35 लोगों को तीन-तीन साल की सजा सुनाई है. कोर्ट ने लालू यादव के लिए सजा का ऐलान नहीं किया है. उन्हें और बचे हुए अन्य दोषियों को 21 फरवरी को सजा सुनाई जाएगी. इन दिनों लालू यादव जमानत पर जेल से बाहर हैं. अगर लालू यादव को भी तीन साल या उससे कम सजा मिलती है तो उन्हें कोर्ट से ही जमानत मिल जाएगी, नहीं तो उन्हें कस्टडी में लिया जाएगा.

मामले के मूल 170 आरोपियों में से 55 की मौत हो चुकी है, सात सरकारी गवाह बन चुके हैं, दो ने अपने ऊपर लगे आरोप स्वीकार कर लिए हैं और छह फरार हैं. लालू प्रसाद के अलावा पूर्व सांसद जगदीश शर्मा, तत्कालीन लोक लेखा समिति (पीएसी) के अध्यक्ष ध्रुव भगत, पशुपालन सचिव बेक जूलियस और पशुपालन सहायक निदेशक डॉ के एम प्रसाद मुख्य आरोपी हैं. लालू यादव समेत सभी आरोपियों के ख़िलाफ़ जाँच एजेन्सी ने 2001 में चार्जशीट दायर किया था और 2005 में चार्ज फ़्रेम किया गया था.

झारखंड में जिन पाँच मामलों में लालू यादव आरोपी बनाए गए हैं, उनमें ये एकमात्र मामला है जिसमें फ़ैसला आना बाकी था. बाकी चार मामलों में कोर्ट पहले ही लालू यादव को दोषी करार देते हुए सजा का ऐलान कर चुका है. चाईबासा कोषागार के दो अलग-अलग मामलों में लालू यादव को सात-सात साल की सजा हो चुकी है, जबकि दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में पाँच साल और देवघर कोषागार से अवैध निकासी के मामले में चार-चार वर्ष की सजा सुनायी गई है. चारों मामलों में लालू यादव ने जेल काटते हुए सजा का पचास प्रतिशत हिस्सा पूरा कर लिया है.

बता दें की 950 करोड़ रुपये का यह घोटाला अविभाजित बिहार के विभिन्न जिलों में धोखाधड़ी कर सरकारी खजाने से सार्वजनिक धन की निकासी से संबंधित है. राजद सुप्रीमो को चारा घोटाला मामले में 14 साल जेल की सजा सुनाई गई है और कुल 60 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. उन्हें दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार से जुड़े चार मामलों में जमानत मिल गई है.

चारा घोटाला मामला जनवरी 1996 में पशुपालन विभाग में छापेमारी के बाद सामने आया था. सीबीआई ने जून 1997 में प्रसाद को एक आरोपी के रूप में नामित किया था. एजेंसी ने प्रसाद और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा के खिलाफ भी आरोप तय किए थे.  सितंबर 2013 में निचली अदालत ने चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में प्रसाद, मिश्रा और 45 अन्य को दोषी ठहराया और प्रसाद को रांची जेल भेज दिया गया था.

दिसंबर 2013 में उच्चतम न्यायालय ने मामले में प्रसाद को जमानत दे दी, जबकि दिसंबर 2017 में सीबीआई अदालत ने उन्हें और 15 अन्य को दोषी पाया और उन्हें बिरसा मुंडा जेल भेज दिया था. बाद में झारखंड उच्च न्यायालय ने प्रसाद को अप्रैल 2021 में जमानत दे दी थी।

Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read

राज्य उपभोक्ता आयोग द्वारा मुआवजा व ब्याज के आदेश को सही मानने के बाद बीमा कंपनी ने उपभोक्ता को भुगतान किया

राज्य उपभोक्ता आयोग द्वारा मुआवजा व ब्याज के आदेश को सही मानने के बाद बीमा कंपनी ने उपभोक्ता को भुगतान किया     काशीपुर। राज्य उपभोक्ता आयोग...

मां मनसा देवी जी की शोभायात्रा के संस्थापक रमेश चंद खुट्टू की पुण्यतिथि पर एक शाम गुरुदेव का नाम काव्यांजलि का किया गया आयोजन

मां मनसा देवी जी की शोभायात्रा के संस्थापक रमेश चंद खुट्टू की पुण्यतिथि पर एक शाम गुरुदेव का नाम काव्यांजलि का किया गया आयोजन       काशीपुर।...

काशीपुर शहर में हेलीपैड निर्माण को मिली मंजूरी : हरभजन सिंह चीमा

काशीपुर शहर में हेलीपैड निर्माण को मिली मंजूरी...हरभजन सिंह चीमा     काशीपुर। शहर में शीघ्र ही हैलीपेड निर्माण को सरकारी मंजूरी मिल गई है। यह जानकारी...

एसपी ऑफिस के समीप ठेला लगाने वाले तमाम लोगों ने व्यापारी नेता राजीव परनामी के नेतृत्व में नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

एसपी ऑफिस के समीप ठेला लगाने वाले तमाम लोगों ने व्यापारी नेता राजीव परनामी के नेतृत्व में नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन     काशीपुर। एसपी ऑफिस...
Related News

राज्य उपभोक्ता आयोग द्वारा मुआवजा व ब्याज के आदेश को सही मानने के बाद बीमा कंपनी ने उपभोक्ता को भुगतान किया

राज्य उपभोक्ता आयोग द्वारा मुआवजा व ब्याज के आदेश को सही मानने के बाद बीमा कंपनी ने उपभोक्ता को भुगतान किया     काशीपुर। राज्य उपभोक्ता आयोग...

मां मनसा देवी जी की शोभायात्रा के संस्थापक रमेश चंद खुट्टू की पुण्यतिथि पर एक शाम गुरुदेव का नाम काव्यांजलि का किया गया आयोजन

मां मनसा देवी जी की शोभायात्रा के संस्थापक रमेश चंद खुट्टू की पुण्यतिथि पर एक शाम गुरुदेव का नाम काव्यांजलि का किया गया आयोजन       काशीपुर।...

काशीपुर शहर में हेलीपैड निर्माण को मिली मंजूरी : हरभजन सिंह चीमा

काशीपुर शहर में हेलीपैड निर्माण को मिली मंजूरी...हरभजन सिंह चीमा     काशीपुर। शहर में शीघ्र ही हैलीपेड निर्माण को सरकारी मंजूरी मिल गई है। यह जानकारी...

एसपी ऑफिस के समीप ठेला लगाने वाले तमाम लोगों ने व्यापारी नेता राजीव परनामी के नेतृत्व में नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

एसपी ऑफिस के समीप ठेला लगाने वाले तमाम लोगों ने व्यापारी नेता राजीव परनामी के नेतृत्व में नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन     काशीपुर। एसपी ऑफिस...

युवतियों के दो गुटों में सारेराह हाथापाई व कहासुनी

काशीपुर। युवतियों के दो गुटों में सरेराह हाथापाई व कहासुनी हो गई। युवतियों का मामला होने के चलते बीच बचाव के लिए कोई भी...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!