Homeउत्तराखंडपुलिस ने धनौरी निवासी मुन्नी देवी हत्याकांड का किया खुलासा

पुलिस ने धनौरी निवासी मुन्नी देवी हत्याकांड का किया खुलासा

Spread the love

पुलिस ने धनौरी निवासी मुन्नी देवी हत्याकांड का किया खुलासा

 

 

काशीपुर। गांव के ही एक स्कूल बस हेल्पर को गिरफ्तार कर पुलिस ने धनौरी निवासी मुन्नी देवी हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। बीती 15 मई की दोपहर प्रतापपुर चौकी क्षेत्रांतर्गत धनौरी गांव स्थित आम के बाग में एक पेड़ पर लोगों ने एक महिला का शव लटका हुआ देखा। प्रधान की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड़ से नीचे उतारकर घटना की जानकारी ली। शव की शिनाख्त 50 वर्षीय मुन्नी देवी के रूप में हुई। परिजनों ने शव के शरीर पर चोट के निशान बताते हुए हत्या की आशंका जताई। इस पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम का दो डॉक्टरों के पैनल से कराया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला की मौत गला घोंटकर और फंदे से लटका कर होना सामने आया है। गले की हड्डी भी टूटी हुई है। मृतका के पुत्र नागेन्द्र की तहरीर पर धारा 302/201 आईपीसी के तहत रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही पुलिस टीमों ने जांच पड़ताल शुरू की। एसपी क्राइम चंद्रशेखर घोड़के ने पत्रकारों को बताया कि जांच पड़ताल के उपरांत धनौरी प्रतापपुर निवासी मनोज सिंह उर्फ विनोद पुत्र स्व. जीत सिंह को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में मनोज सिंह ने पुलिस को बताया कि वह ग्रेट मिशन पब्लिक स्कूल बस में हैल्पर है और अपने बड़े भाई के साथ रहता है। बताया कि 15 मई को बच्चों को स्कूल छोड़ने के बाद वह घर से खाना खाकर अमरूद के बगीचे में गया। वहां लगे ट्यूबैल से पानी पीकर गन्ने के खेत की ओर जा रहा था कि परिचित महिला मिली। उनसे उसने कहा कि आंटी यहां से घास मत काटो यहां दवाई डाली गयी है। आम के बगीचे से घास काट लो। इस पर महिला आम के बगीचे में चली गयीं और वह भी उसके पीछे चला गया। इसके बाद चरस से भरी बीड़ी पीकर बदनियती से वह महिला के नजदीक पहुंचा और जबरदस्ती करने लगा। इस पर महिला ने विरोध करते हुए उसे थप्पड़ मार दिया और गुस्से में आकर दरांती से बार किया तो मैंने वाये हाथ से दरांती पकड़ ली, जिससे एक अंगुली कट गई। शोर मचाते हुए महिला ने हाथ छुड़ाने की कोशित की तो मैंने मुंह बंद कर उसका गला दबा दिया और बेहोश होने पर महिला की ही रस्सी से उसका गला दबा दिया। इससे मैं घबरा गया और आत्महत्या दिखाने के लिए लाश पेड़ पर लटका दी तथा चुपचाप वहां से निकल लिया। घर जाकर नहाने के बाद पहने हुए कपड़े घर में छिपा दिये। एसपी ने बताया कि वारदात में प्रयुक्त दरांती, मृतका की साड़ी व रस्सी बरामद कर ली गयी है। खुलासे के वक्त एसपी अभय सिंह व सीओ वंदना वर्मा भी मौजूद रहे। वहीं, पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप मिश्रा, एसआई विनोद जोशी, कपिल काम्बोज, संतोष देवरानी, देवेन्द्र सिंह सामंत, अशोक काण्डपाल, मनोज जोशी, दीपक जोशी, नवीन बुधानी, कंचन पड़लिया, महिला एसआई सुप्रिया नेगी, कां. दीपक जोशी, हेमचन्द्र, धीरज, मुकेश कुमार, प्रेम सिंह कनवाल, सुरेन्द्र सिंह, गजेन्द्र गिरी, नरेन्द्र वोहरा, कुलदीप सिंह, महिला कां. वंदना, एसओजी प्रभारी काशीपुर उपनिरीक्षक भुवन चन्द्र जोशी, हेड कां. विनय कुमार, कां. कैलाश तोमक्याल, दीपक कठैत व प्रदीप कुमार शामिल रहे।


Spread the love
Must Read
Related News
error: Content is protected !!